Breaking
घर से गांव की मुखिया तक का सफर, आठवीं पास रश्मि बनीं डोगरसलैया की सरपंच जांच में सही नहीं पाए गए सैंपल, एडीएम कोर्ट ने लगाया जुर्माना एलपीजी सिलेंडर हुआ सस्ता 198 रुपये कम हो गए दाम सिरसा के डबवाली में करना था सप्लाई, CIA ने छापामारी कर 2 आरोपी पकड़े 4 साल पहले चाकू घोंपकर की थी हत्या, भाभी की गवाही पर मिली सजा विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने आतंकवादियों का पुतला जलाया रोहतक मंडल में 3491 मामले लंबित, जिनकी 50.98 करोड़ राशि हेल्थ, स्किन और हेयर का रखे ख्याल पॉलिटेक्निक कॉलेज में परीक्षा देने गए थे, चोर ने एक्टिवा का बूट स्पेस खोलकर चुराए मोर माजरा गांव के युवक का स्टंट, तेज स्पीड में नहर में कूदने का VIDEO वायरल

भाजपा विधायक के गाल छूकर भाई वीरेंद्र ने कहा-सरावगी जी नमस्‍ते, हाथ तो मिलाइए

Whats App

पटना। बिहार विधानमंडल की शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन विधानसभा परिसर में भाजपा विधायक संजय सरावगी (BJP MLA Sanjay Saraogi) से भिड़े राजद विधायक भाई वीरेंद्र (RJD MLA Bhai Virendra) के तेवर बुधवार को नरम नजर आए। वे भाजपा विधायक को मनाने पहुंच गए। हालांकि, संजय सरावगी ने दो टूक कहा कि वे मानने वाले नहीं। जो उनके साथ हुआ, उसकी शिकायत विधानसभा अध्‍यक्ष से की गई है। इसके बाद उन्‍होंने बिना नाम लिए जमकर खरीखोटी सुना दी। मीडिया के सामने यह सब सिलसिला चलता रहा।

भाजपा विधायक ने नहीं बढ़ाया हाथ 

विधानसभा की सत्र की कार्रवाही शुरू होने से पहले परिसर में मौजूद भाजपा विधायक संजय सरावगी और हरिभूषण ठाकुर बचौल के पास भाई वीरेंद्र पहुंचे। मीडिया की नजरें दोनों पर टिक गईं। लेकिन भाई वीरेंद्र मुस्‍कुराते हुए आए और कहा, सरावगी जी नमस्‍ते। कैसे हैं सरावगी जी। नमस्‍ते। इतना कहते हुए पास पहुंच गए। अरे हाथ तो मिलाइए। यह कहकर उन्‍होंने हाथ बढ़ा दिया। लेकिन संजय सरावगी ने हाथ नहीं निकाला। कहा, हाथ मिलले-मिलल है। हाथ क्‍या मिलाना।

Whats App

ऐसा व्‍यवहार की लज्‍जा को भी लाज आ जाए

भाई वीरेंद्र इस दौरान भाजपा विधायक के पास खड़े रहे। दोनों को साथ देख मीडियाकर्मियों की भीड़ लगी रही। राजद विधायक के सामने ही भाजपा विधायक ने कहा कि कोई ऐसा व्‍यवहार करे कि लज्‍जा को भी लाज आ जाए। विधानसभा अध्‍यक्ष को लिखकर दिया है। जिस तरह का अशोभनीय व्‍यवहार किया गया। असंसदीय भाषा का इस्‍तेमाल किया गया। व्‍यक्तिगत टिप्‍पणी की गई। उन्‍होंने कहा कि नाराजगी की बात नहीं है। मामला संसदीय मर्यादा का है। वहीं भाई वीरेंद्र ने कहा कि उनके मन में कोई दुर्भावना नहीं है। चाहता हूं कि सभी से मिलकर रहूं।  मैं समाजसेवाके लिए राजनीति करता हूं, गाली सुनने और तुमताम सुनने के लिए नहीं।

बता दें कि मंगलवार को विस परिसर में दोनों विधायक आमने-सामने आ गए। इस दौरान सदन की मर्यादा को भी ठेस पहुंची। राजद विधायक ने उम्र में बड़ा होने की बात कहते हुए भाजपा विधायक को अपशब्‍द कह दिए थे।

घर से गांव की मुखिया तक का सफर, आठवीं पास रश्मि बनीं डोगरसलैया की सरपंच     |     जांच में सही नहीं पाए गए सैंपल, एडीएम कोर्ट ने लगाया जुर्माना     |     एलपीजी सिलेंडर हुआ सस्ता 198 रुपये कम हो गए दाम     |     सिरसा के डबवाली में करना था सप्लाई, CIA ने छापामारी कर 2 आरोपी पकड़े     |     4 साल पहले चाकू घोंपकर की थी हत्या, भाभी की गवाही पर मिली सजा     |     विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने आतंकवादियों का पुतला जलाया     |     रोहतक मंडल में 3491 मामले लंबित, जिनकी 50.98 करोड़ राशि     |     हेल्थ, स्किन और हेयर का रखे ख्याल     |     पॉलिटेक्निक कॉलेज में परीक्षा देने गए थे, चोर ने एक्टिवा का बूट स्पेस खोलकर चुराए     |     मोर माजरा गांव के युवक का स्टंट, तेज स्पीड में नहर में कूदने का VIDEO वायरल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374