Breaking
महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री  भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित   निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022 बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान

मुजफ्फरपुर आंख आपरेशन में लापरवाही पर मानवाधिकार आयोग गंभीर, बिहार के मुख्य सचिव को नोटिस देकर मांगी रिपोर्ट

Whats App

पटना। बिहार के मुजफ्फपुर में एक निजी अस्पताल में बीते 22 नवंबर को आयोजित मोतियाबिंद आपरेशन शिविर आपरेशन के दौरान लापरवाही के कारण मरीजों की हालत बिगड़ गई है। अभी तक 15 मरीजों की आंखें निकालनी पड़ी हैं। जबकि, तीन अन्‍य मरीजों की आंखें आज निकाली जाएगी। कई अन्‍य की हालत भी गंभीर बनी हुई है। इस मामले से बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग (Health Department of Bihar) में हड़कम्‍प मच गया है। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की हाई लेवल जांच के बीच अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने भी दखल दी है। आयोग ने नोटिस जारी कर मुख्‍य सचिव से घटना की पूरी जानकारी तलब किया है। घटना की जांच के लिए पटना से स्वास्थ्य विभाग की एक हाई लेवल टीम भी आज मुजफ्फरपुर पहुंचेगी।

एनएचआरसी ने मुख्‍य सचिव को दिया नोटिस, मांगी जानकारी

एनएचआरसी ने बिहार के मुख्य सचिव को नोटिस जारी कर मुजफ्फरपुर के अस्पताल में किए गए मोतियाबिंद आपरेशन का ब्योरा मांगा है। आयोग ने अस्पताल में हुए आपरेशन से जुड़ी तमाम चीजों की जानकारी देने का निर्देश दिया है। अस्‍पताल में आयोजित शिविर में डाक्‍टर ने 65 मरीजों का आपरेशन किया था। आयोग ने यह भी बताने को कहा है कि मेडिकल प्रोटोकॉल के तहत एक डाक्‍टर एक दिन में कितने आपरेशन कर सकता है।

Whats App

65 मरीजों का हुआ आपरेशन, 15 की निकाली जा चुकीं आंखें

विदित हो कि मुजफ्फरपुर आई हास्पिटल में बीते 22 नवंबर को मोतियाबिंद आपरेशन शिविर आयोजित किया गया था। उसमें 65 लोगों का आपरेशन किया गया था। उनमें संक्रमण के कारण अब तक 15 लोगों की आंखें निकालनी पड़ी हैं। आज भी तीन अन्‍य मरीजों की आंखें निकाली जानी हैं। संक्रमण के बाद हालत बिगड़ने पर मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्‍ण मेडिकल कालेज एवं अस्‍पताल (SKMCH) में भर्ती कराए गए कुछ और मरीजो की हालत भी गंभीर बनी हुई है। उनकी भी आंखें निकालनी पड़ सकती हैं

सकते में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग, सिविल सर्जन ने बनाई जांच टीम

घटना के बाद मुजफ्फरपुर से लेकर पटना तक स्‍वास्‍थ्‍य विभाग सकते में है। सिविल सर्जन डा. विनय कुमार शर्मा व एसीएमओ डा. एसपी सिंह ने आपरेशन में लापरवाही करने वाले अस्‍पताल का निरीक्षण कर प्रबंधन ने वहां के चिकित्सकों और एक सप्ताह में हुए आपरेशन आदि की पूरी जानकारी मांगी है। सिविल सर्जन ने एसीएमओ डा. सुभाष प्रसाद सिंह, डा. हसीब असगर, डा. नीतू कुमारी की जांच टीम गठित कर दी है।

आपरेशन थिएटर में फंगस या वायरस से फैला संक्रमण

सिविल सर्जन ने बताया कि आपरेशन थिएटर में फंगल या वायरल संक्रमण के कारण मरीजों में संक्रमण फैला है। इसकी जांच के लिए सैंपल भेजा गया है, जिसकी रिपोर्ट शुक्रवार तक आ जाएगी। फिलहाल अस्‍पताल के आपरेशन थियेटर को सील कर दिया गया है। घटना के जांच पदाधिकारी एसीएमओ डा. एसपी सिंह ने बताया कि उक्‍त अस्‍पताल में बीते एक सप्ताह के दौरान 328 मरीजों के आपरेशन किए गए। उन सभी मरीजों की जानकारी ली जा रही है। संक्रमण के शिकार किसी अन्‍य मरीज की जानकारी मिलने पर उसे भी एसकेएमसीएच भेजा जाएगा।

महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे     |     टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका     |     गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री      |     भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे     |     सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात     |     श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित       |     निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022     |     बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन     |     जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा     |     अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374