Breaking
महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री  भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित   निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022 बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान

भाजपा के लिए तीन चुनावों से शुभ साबित हो रहा गोरखपुर का यह ग्राउंड, इस बार भी यहीं से बजेगी रणभेरी

Whats App

गोरखपुर। 56 इंच का सीना ठोंककर यूपी को गुजरात बनाने का वादा करने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक बार फिर उसी धरती से विजयी हुंकार भरेंगे, जहां से उन्होंने देशभर के किसानों के लिए सम्मान निधि की शुरुआत की थी। यह साबित हो चुका है कि मोदी ने जब-जब मानबेला और फर्टिलाइजर मैदान से चुनावी बिगुल फूंका, पूर्वांचल में भाजपा को प्रचंड बहुमत से जीत मिली। सात दिसंबर को पीएम मोदी न केवल ‘फिर एक बार योगी सरकार’ का नारा बुलंद करेंगे बल्कि जनता-जनार्दन को उस पूरे हुए वायदे की याद भी दिलाएंगे, जिसकी आधारशिला उन्होंने इसी मैदान पर रखी थी।

फर्टिलाइजर का मैदान, हर बार मिली प्रचंड जीत

गुरु गोरक्षनाथ की धरती पर सात दिसंबर को होने वाली प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली यूं तो पूरे प्रदेश में अपना असर छोड़ेगी, लेकिन गोरखपुर, बस्ती और आजमगढ़ मंडल की 62 विधानसभा सीटों पर इसका प्रभाव कुछ ज्यादा ही होगा। पूर्ववर्ती चुनाव में इसका नजारा पार्टी ही नहीं विपक्ष भी देख चुका है। 2014 के लोकसभा चुनाव से ठीक पहले भाजपा की तरफ से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने जब मानबेला के मैदान में अपना 56 इंच का सीना ठोंककर प्रदेश की तस्वीर और तकदीर बदलने का वादा किया तो इन तीन मंडलों की 13 में से 12 सीटें भाजपा की झोली में आ गईं।

Whats App

पीएम मोदी ने 2014 के लोकसभा, 2017 के विधानसभा और 2019 के लोकसभा चुनाव का यहीं से किया था शंखनाद

पहली जीत ने मोदी में उत्साह का इस कदर संचार किया कि तीन साल बाद 2017 में हुए यूपी के विधानसभा चुनाव का शंखनाद मोदी ने यहीं स्थित फर्टिलाइजर मैदान में आकर किया। नतीजे इस बार भी चौंकाने वाले आए और 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने पूर्वांचल की 62 में 44 सीटों पर जीत दर्ज कर ली। भाजपा के सहयोगियों को भी दो सीटों पर जीत मिली। जीत का जो सिलसिला यहां से शुरू हुआ वह 2019 के लोकसभा चुनाव में भी जारी रहा।

यहीं से जारी की थी किसान सम्मान निधि की पहली किस्त

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकसभा चुनाव से ठीक फर्टिलाइजर के इसी ऐतिहासिक मैदान पर बने मंच से पूरे देश के किसानों के खाते में किसान सम्मान निधि की पहली किस्त जारी की। किसानों से उनका सहज संवाद यहीं से पूरे देश ने देखा-सुना था। इस बार मोदी ने जनता से कुछ मांगा नहीं बल्कि बताया कि पिछले पांच सालों में देश और प्रदेश को उन्होंने क्या से क्या बना दिया। फर्टिलाइजर मैदान पर हुई इस रैली के बाद जनता ने एक बार फिर गोरखपुर-बस्ती और आजमगढ़ मंडल में जबरदस्त समर्थन दिया, जिसका नतीजा रहा कि यहां की 13 में से 10 सीटें भाजपा के खाते में गईं। समर्थन की इसी उम्मीद के साथ पीएम मोदी चौथी बार भी चुनावी शंखनाद करेंगे जैसा तीन बार पहले मिल चुका है।

महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे     |     टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका     |     गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री      |     भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे     |     सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात     |     श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित       |     निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022     |     बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन     |     जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा     |     अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374