Breaking
भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर  कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार

बांके बिहारी मंदिर पहुंचीं कंगना रनौत ने कहा- ‘नहीं मांगी किसानों से माफी, मेरा किसी पार्टी से संबंध नहीं’

Whats App

हमेशा अपनी बयानबाजी के चलते सुर्खियों में छाई रहने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत आज वृंदावन के ठाकुर बांके बिहारी मंदिर दर्शन के लिए पहुंची। यहां मंदिर में उन्होंने पूजा पाठ कर बांके बिहारी का आशीर्वाद लिया और इसके बाद वह से रवाना हुई लेकिन इस बीच मीडिया कर्मियों ने उन्हें घेर लिया। इस दौरान पत्रकारों ने कंगना से राजनीतीक और किसानों को लेकर कई सवाल किए।

इस दौरान वहां पहुंचे पत्रकारों ने कंगना से पूछा कि वो आगामी चुनावों में किस पार्टी को सपोर्ट करेंगी।  जवाब में कंगना ने कहा कि जो राष्ट्रवादी है मैं उसके लिए चुनाव प्रचार करूंगी, मैं किसी पार्टी से संबंध नहीं रखती औ प्रचार में भी उसी पार्टी का सपोर्ट करूंगी जो राष्ट्रवादी है।

 

Whats App

वहीं, उन्होंने पत्रकारों के सवालों के जवाब में कहा कि मुझे किसी ने माफी मांगने को नहीं कहा और मैं किसी से माफी क्यों मांगूगी। मैं कोई किसान विरोधी नहीं हूं, और माफी मांगने का तो सवाल ही नहीं उठता। हां वो लोग थोड़े नाराज थे, मुझे लेकर उन्हें कुछ शिकायतें थीं। मैंने उनके गिले शिकवे सुने और अपनी बात समझाई।

बता दें कि पद्मश्री और बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत का बांके बिहारी के दर्शन का प्रोग्राम गोपनीय था। हालांकि भीड़ के बेकाबू होने के बाद पुलिस को कंगना रनौत की सुरक्षा के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर      |     कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |     एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374