अमित शाह बोले-ड्रोन रोधी तकनीक हो रही है विकसित, हमारी सीमा और जवानों को कोई हल्के में नहीं ले सकता

Whats App

जयपुर। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि ड्रोन के खतरे से निपटने के लिए सरकार और वैज्ञानिक लगातार कोशिश कर रहे हैं। एंटी ड्रोन तकनीक बनाने के लिए सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) नेशनल सिक्योरीटी गार्ड (एनएसजी) और रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) मिलकर कोशिश कर रहे हैं। हमें वैज्ञानिकों पर पूरा भरोसा है। कुछ समय में हम ड्रोन प्रतिरोधक क्षमता बनाने में सफल होंगे। उन्होंने कहा कि जब उड़ी और पुलवामा में हमला हुआ तो भारत सरकार ने मजबूत होकर जवाब दिया। पूरी दुनिया ने इसकी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि जहां-जहां भी सीमा पर अतिक्रमण करने का प्रयास हुआ है, हमने तुरंत जवाबी कार्रवाई की है। हमारी सीमा और जवानों को कोई हल्के में नहीं ले सकता, भारत ने यह संदेश दुनिया को दिया है।

उन्होंने कहा कि कोई भी देश अपनी संस्कृति को तभी बचा सकता है जब वह सुरक्षित हो और हमारे जवान देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने में लगे हैं। बीएसएफ के जवानों की तारीफ करते हुए शाह ने कहा कि सीमा सुरक्षा का मतलब राष्ट्रीय सुरक्षा है। शाह रविवार को पाकिस्तान सीमा से सटे राजस्थान के जैसलमेर में बीएसएफ के 57वें स्थापना दिवस समारोह में संबोधित कर रहे थे। शाह ने परेड की सलामी ली। परेड में पहली बार बीएसएफ का महिला दस्ता शामिल हुआ है। परेड़ में ऊंट सवार दस्ता भी शामिल हुआ। बांग्लादेश बार्डर गार्ड के चीफ मेजर जनरल शफीनुल इस्लाम भी इस मौके पर मौजूद थे।

आधुनिक हथियार उपलब्ध कराएंगे

Whats App

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सीमाओं के लिए संवेदनशील रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने सीमाओं पर घुसपैठ पर त्वरित प्रतिक्रया सुनिश्चित की है। विश्व में उपलब्ध आधुनिक तकनीक बीएसएफ को उपलब्ध कराई जाएगी। शाह ने कहा पहली बार बीएसएफ का स्थापना दिवस दिल्ली से बाहर देश की सीमा के जिले में मनाने का निर्णय लिया गया है। यह परंपरा जारी रखनी चाहिए। यह स्थापना दिवस आजादी के अमृत महोत्सव काल में मनाया जा रहा है।

जवानों ने दिखाया दम

कार्यक्रम में डाग शो,अस्त्र-शस्त्र, हैंडलिंग प्रदर्शन, पैरा एडवेंचर प्रदर्शन,सीमा भवानी और जांबाज दल द्वारा मोटरसाइकिल के साथ प्रदर्शन किया गया। जवाानों ने कई ऐसे हैरतअंगेज कारनामें दिखाए, जिन्हें देखकर हरकोई रोमांचित हो उठा। इस मौके पर गृहमंत्री ने सराहनीय सेवा देने वाले जवानों व उनके परिजनों को सम्मानित किया। इससे पहले शनिवार को शाह ने तनोट माता मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद जवानों को संबोधित किया और फिर बड़ा खाना में शामिल हुए थे। उन्होंने रोहितास चौकी पर जवानों के साथ रात बिताई।

लोंगेवाला पोट के वीर नायक से मिले

अमित शाह रविवार सुबह 1071 के युद्ध में लोंगेवाला पोस्ट के वीर नायक भैरों सिंह राठौड़ से मिले। उनसे मिलने के बाद शाह ने कहा कि लोंगेवाला से दुश्मनों को खदेड़ने की आपकी वीरता और मातृभूमि के प्रति प्रेम ने देश के इतिहास व देशवासियों के मन में स्थान बनाया है। दरअसल, बीएसएफ के नायक रहे भैरों सिंह 1971 के लोगेंवाला युद्ध के हीरो थे। साहस दिखाने पर उन्हे सेना मैडल मिला है। लोंगेवाला में पाकिस्तान की पूरी टैंक की बटालियन को बीएसएफ के जवानों ने खदेड़ दिया था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ग्वालियर में तापमान 46 डिसे पार     |     ई-वीकल के लिए लगेगा अलग मीटर     |     इलाहाबाद हाई कोर्ट में श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर तथा ज्ञानवापी मस्जिद विवाद मामले में सुनवाई आज     |     चैंपियन बनने के बाद टीम इंडिया को पीएम मोदी ने किया फोन     |     गुजरात-चेन्नई का मैच देखने पहुंचे कार्तिक आर्यन     |     हरी सब्जियों के दाम में आई गिरावट     |     एफडी ब्याज दरों में फिर होने वाली है बढ़ोतरी     |     रक्षित शेट्टी की फिल्म “चार्लि 777” का ट्रेलर रिलीज     |     कमल हासन की ‘विक्रम’ में नजर आएंगे सूर्या     |     सुपारी गोदाम में आगजनी, नशेड़ी युवकों पर शक, पत्नी से विवाद के बाद कार जलाई     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374