Breaking
बांधी 75 फुट की हरी-भरी राखी, बहनें बोली - पेड़ हमारे हरे-भरे भैया भालू नें कई लोगों को किया घायल घर बैठे ही लोगों को मिला 12 लाख स्मार्ट कार्ड आधारित पंजीयन प्रमाण-पत्र तथा ड्राइविंग लायसेंस मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामुदायिक वन संसाधन अधिकार जागरूकता अभियान का किया शुभारंभ मुख्यालय सहित विभिन्न नगरों में निकाली रैली; विद्यार्थी, शिक्षकों एवं पुलिस कर्मी रहे शामिल नीतीश आठवीं बार बने सीएम अपर कलेक्टर ने जारी किया आदेश, हितग्राही को नहीं दे रहे थे योजना का लाभ सीहोर में जिला संस्कार मंच ने ग्रामीणों को 100 से अधिक तिरंगे निशुल्क बांटे महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश Skoda Enyaq iV की शुरू हुई टेस्टिंग

दरभंगा में बोले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार – बिहार में एक साथ पढ़ेंगे लड़के और लड़िकयां

Whats App

पटना। कुशेश्वरस्थान सीट पर उपचुनाव में जीत दर्ज करने के बाद गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दरभंगा पहुंचे। जानकारी के मुताबिक सीएम दो दिनों के मिथिलांचल के दौरे पर हैं।कुशेश्वरस्थान के हिरणी में जन संवाद कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि, क्या क्या कमी है ये सब देखने आए हैं। पहले क्या हालात थे अब कितना कुछ बदला है। बाढ़ की समस्या यहां सबसे ज्यादा है। इसलिए खेती नहीं हो पाती। लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि यहां की जमीन बहुत अच्छी है। उन्होंने कहा कि बिहार में लड़के और लड़कियां एक साथ पढ़ेंगी।

महिलाओं ने पौधा देकर किया स्वागत

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का महिलाओं ने पौधे देकर स्वागत किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमारी सरकार का लक्ष्य है कि हर गांव को पक्क सड़क से जोड़ना। जिले में क्या क्या समस्या है सबको देखने के लिए विभाग के लोग आए हैं। हर परेशानी को दूर किया जाएगा।

Whats App

इस दौरान सीएम नीतीश कुमार ने दरभंगा में एम्स निर्माण की समीक्षा भी की। दरभंगा के कुशेश्वरस्थान में नरैला चौर के लिए नाला उड़ाहीकरण का निरीक्षण किया और संबंधित अधिकारियों को इससे जुड़े आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने पूर्वी प्रखंड के लिए प्रस्तावित भूमि का निरीक्षण भी किया। सीएम कुशेश्वरस्थान स्थित नंदकिशोर उच्च विद्यालय हिरणी भी गए। वहीं पहुंचकर उन्होंने परिस्थितियों के अनुरूप जलीय पौधों का माडल एवं जलवायु परिवर्तन अनुकूल खेती के माडल का निरीक्षण किया।

गौरतलब है कि कुशेश्वरस्थान उपचुनाव के दौरान स्थानीय नागरिकों ने जलजमाव और सड़की व्यवस्था की समस्या को प्रमुखता से उठाया था। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के अनुसार शुक्रवार को वे मधुबनी जिले का दौरा करेंगे। इस दौरान वे जयनगर पर कमला पर बराज और तटबंधों पर 80 किलोमीटर सड़क निर्माण का कार्यारंभ करेंगे। बताया जाता है कि यह मिथिलांचल के लिए बड़ी सौगात होगी। बराज के निर्माण किसानों को सिंचाई की सुविधा मिलेगी वहीं तटबंध पर बनने वाली सड़कें स्थानीय लोगों के लिए मददगार साबित होंगी इसके साथ ही इससे तटबंधों को मजबूती भी मिलेगी।

बांधी 75 फुट की हरी-भरी राखी, बहनें बोली – पेड़ हमारे हरे-भरे भैया     |     भालू नें कई लोगों को किया घायल     |     घर बैठे ही लोगों को मिला 12 लाख स्मार्ट कार्ड आधारित पंजीयन प्रमाण-पत्र तथा ड्राइविंग लायसेंस     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामुदायिक वन संसाधन अधिकार जागरूकता अभियान का किया शुभारंभ     |     मुख्यालय सहित विभिन्न नगरों में निकाली रैली; विद्यार्थी, शिक्षकों एवं पुलिस कर्मी रहे शामिल     |     नीतीश आठवीं बार बने सीएम     |     अपर कलेक्टर ने जारी किया आदेश, हितग्राही को नहीं दे रहे थे योजना का लाभ     |     सीहोर में जिला संस्कार मंच ने ग्रामीणों को 100 से अधिक तिरंगे निशुल्क बांटे     |     महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश     |     Skoda Enyaq iV की शुरू हुई टेस्टिंग     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374