Breaking
स्वतंत्रता सेनानी स्व.बैनीपाल के पत्नी को किया सम्मानित; बोले-गोवा कभी नहीं भुला सकता स्वतंत्रता सेन... चन्नी ने कहा 24 घंटे फोन पर उपलब्ध; CM मान व पंजाब सरकार ने नहीं किया संपर्क चित्रा रामकृष्ण व आनंद सुब्रमण्यम को हाईकोर्ट से मिली जमानत गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड पर रात में हो रहा था जश्न, आठ गाड़ियां सीज युवराज सिंह ने बद्रीनाथ संग झील में लिया बोटिंग का मजा कहा- दुर्घटना में घायल मरीज के साथ आए लोगों ने किया हंगामा और अभद्रता गत्ते के डिब्बे बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | Corrugated Cardboard Box Making Business in Hindi जो भी आतंकवादी संस्था या गतिविधियों से जुड़े हों, उन पर कार्रवाई हो - कमल नाथ T20I मैच से पहले पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका CM मान ने कहा; शहीद भगत सिंह जैसे बलिदानियों को मिले भारत रत्न, बढ़ेगी पुरस्कार की इज्जत

इंद्राणी मुखर्जी की वकील का दावा, शीना बोरा को जिंदा देखने वाली महिला बयान दर्ज कराने को तैयार

Whats App

नई दिल्ली। शीना बोरा मर्डर केस में इंद्राणी मुखर्जी की वकील सना आर खान ने सनसनीखेज दावा किया। उनका कहना है कि शीना बोरा को जिंदा देखने वाली महिला आफिसर बयान दर्ज कराने को तैयार है। बता दें कि अपनी बेटी शीना की हत्या के मामले में छह साल से जेल में बंद इंद्राणी ने पिछले दिनों केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) के निदेशक को पत्र लिखकर दावा किया कि था शीना बोरा जिंदा है और कश्मीर में है।

अब इस मामले को उनकी वकील सना खान ने कहा है कि उनको अनकी क्लाइंट इंद्राणी मुखर्जी ने सूचित किया है कि एक महिला ने उसे बताया है कि वह 24 जून को डल झील के पास शीना बोरा से मिली थी। यह महिला सीबीआइ के सामने अपना बयान दर्ज कराने के लिए तैयार है। हम सीबीआइ को निष्पक्ष जांच करने का निर्देश देने के लिए एक आवेदन दायर करेंगे।

इंद्राणी मुखर्जी के बयान को लेकर समाचार एजेंसी एएनआइ से बात करते हुए इंद्राणी के वकील सना रईस खान ने कहा था कि एक कैदी ने इंद्राणी मुखर्जी से कहा कि वह 2021 में श्रीनगर में शीना से मिली थी। उन्होंने यह भी जानकारी दी थी कि दावा करने वाली महिला कैदी सरकारी अधिकारी है। इंद्राणी ने सीबीआइ को एक पत्र लिखा है, जिसमें आवश्यक कदम उठाने का आग्रह किया है। अगर ऐसा नहीं होता है, तो अदालत में एक आवेदन दायर होगा।

Whats App

शीना बोरा की मां इंद्राणी मुखर्जी ने जांच एजेंसी को लिखे अपने पत्र में कहा है कि भायखला जेल में एक कैदी ने उसे बताया था कि उसने कुछ समय पहले शीना को कश्मीर में देखा था। इंद्राणी ने अपने पत्र में सीबीआइ से शीना के जिंदा होने की संभावना पर गौर करने का अनुरोध किया। इंद्राणी ने हमेशा कहा है कि शीना की हत्या नहीं की गई है और वह जीवित है।  2012 में पढ़ाई के लिए विदेश गई थी। हालांकि, इंद्राणी कभी भी अपने दावों को साबित नहीं कर पाई।

मुंबई की भायखला जेल में बंद इंद्राणी मुखर्जी ने जेल से केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) को पत्र भेजकर कहा है कि शीना बोरा जिंदा है। इंद्राणी के एक करीबी सूत्र ने पुष्टि की कि पत्र जेल के एक अन्य कैदी द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर लिखा गया है। इंद्राणी के वकील सना रईस खान ने पत्र के बारे में कुछ भी पुष्टि करने से इनकार कर दिया था। साथ ही कहा था कि वह 28 दिसंबर को बांबे हाईकोर्ट के समक्ष एक आवेदन दायर करेंगी और उस आवेदन को दाखिल करने के बाद ही, वह सीबीआइ को इंद्राणी द्वारा लिखे गए पत्र का विवरण साझा करेंगी।

उन्होंने यह भी कहा कि पत्र की सुनवाई की अगली तारीख पर विशेष सीबीआइ अदालत के साथ साझा किया जाएगा। हालांकि, सूत्रों ने कहा कि इंद्राणी ने कुछ लोगों को बताया है कि वह जेल में एक महिला से मिली थी, जिसने उससे कहा था कि वह कश्मीर में शीना बोरा से मिली है। इसके कारण सीबीआइ को कश्मीर में शीना की तलाश करनी चाहिए।

मुंबई पुलिस से मामला अपने हाथ में लेने के बाद सीबीआइ 2015 से शीना बोरा मामले की जांच कर रही है। मुंबई पुलिस द्वारा दर्ज मामले के अनुसार, शीना बोरा का अप्रैल 2012 में अपहरण कर गला घोंटकर हत्या कर दी गई थी। यह मामला सबसे पहले अगस्त 2015 में एक अन्य मामले में इंद्राणी के ड्राइवर श्यामवर राय की गिरफ्तारी के बाद सामने आया था। जांच के दौरान, उसने अप्रैल 2012 में शीना बोरा की हत्या करने की बात कबूल की और कहा कि उसने उसके शव को महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में फेंक दिया। उसने मुंबई पुलिस को यह भी बताया कि शीना की मां इंद्राणी मुखर्जी और संजीव खन्ना (इंद्राणी के पूर्व पति) भी इस हत्या में शामिल थे।

सीबीआइ की जांच के अनुसार इंद्राणी मुखर्जी ने शीना बोरा की हत्या कर दी थी, क्योंकि वह शीना बोरा और पीटर मुखर्जी (इंद्राणी मुखर्जी के तीसरे पति) के बेटे राहुल मुखर्जी के बीच संबंधों को लेकर गुस्से में थी। इंद्राणी, शीना को अपनी बहन बताती थी।

सीबीआइ के अनुसार, इंद्राणी ने शीना बोरा की हत्या इसलिए की क्योंकि शीना सबको सच्चाई बताने की धमकी दे रही थी कि वह उसकी बहन नहीं है, बल्कि उसकी बेटी है। इस मामले में चालक श्यामवर राय सरकारी गवाह बना। पीटर मुखर्जी को मार्च 2020 में सीबीआइ की एक विशेष अदालत ने जमानत दे दी थी। मामले की सुनवाई के दौरान इंद्राणी और पीटर ने अपने रिश्ते को भी खत्म करने का फैसला किया। अक्टूबर 2019 में दोनों का तलाक हो गया था।

स्वतंत्रता सेनानी स्व.बैनीपाल के पत्नी को किया सम्मानित; बोले-गोवा कभी नहीं भुला सकता स्वतंत्रता सेनानियों की सहादत | Ambala News: Goa CM Pramod Sawant arrives in Ambala Honored wife of freedom fighter Late Karnail Singh Benipal     |     चन्नी ने कहा 24 घंटे फोन पर उपलब्ध; CM मान व पंजाब सरकार ने नहीं किया संपर्क     |     चित्रा रामकृष्ण व आनंद सुब्रमण्यम को हाईकोर्ट से मिली जमानत     |     गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड पर रात में हो रहा था जश्न, आठ गाड़ियां सीज     |     युवराज सिंह ने बद्रीनाथ संग झील में लिया बोटिंग का मजा     |     कहा- दुर्घटना में घायल मरीज के साथ आए लोगों ने किया हंगामा और अभद्रता     |     गत्ते के डिब्बे बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | Corrugated Cardboard Box Making Business in Hindi     |     जो भी आतंकवादी संस्था या गतिविधियों से जुड़े हों, उन पर कार्रवाई हो – कमल नाथ     |     T20I मैच से पहले पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका     |     CM मान ने कहा; शहीद भगत सिंह जैसे बलिदानियों को मिले भारत रत्न, बढ़ेगी पुरस्कार की इज्जत     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374