Breaking
क्रूड ऑयल 110 डॉलर के पार, जान लीजिए आपके शहर में आज क्या है पेट्रोल-डीजल का हाल ? स्ट्रेस के इन लक्षणों को पहचानकर तनाव दूर करने के लिए अपनाएं ये नेचुरल तरीके करीब 30 साल बाद शनि जयंती पर बन रहा खास संयोग वट सावित्री व्रत पर वटवृक्ष की होती है परिक्रमा मुख्यमंत्री बघेल ने अबूझमाड़ के छोटेडोंगर में आम जनता से की भेंट-मुलाकात मुख्यमंत्री चौहान से मिले नाबार्ड के मुख्य महाप्रबंधक यात्र‍ियों के ल‍िए रेलवे ने बदले सफर के न‍ियम, आपकी सहूल‍ियत के ल‍िए क‍िया यह बदलाव जानें कब है निर्जला एकादशी पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर पीएम मोदी और सोनिया गांधी ने दी श्रद्धांजलि कमलनाथ ने बताई कांग्रेस की कमी, कहा-हम इस बात का इंतजार करते रह जाते हैं

पटना।करप्ट सिस्टम का हिस्सा नहीं बना युवक तो शराब के आरोप में अधिकारियों ने भेजवा दिया जेल।

Whats App

पटना।सोमवार से भारतीय जनता पार्टी ने आम लोगों और कार्यकर्ताओं के लिए अपने दरबार खोल दिया है,
बीजेपी कोटे के मंत्री प्रदेश कार्यालय में लोगों की फरियाद सुन रहे हैं. आज सहयोग कार्यक्रम में पहली बार बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने लोगों की शिकायत सुनी,डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद के विधानसभा क्षेत्र से ही आए एक युवक ने जो खुलासा किया, उसके बाद थोड़ी देर तक के लिए जनता दरबार में गहमागहमी मच गई.इस क्रम में युवक ने आरोप लगाया कि वह परिवहन विभाग में कंप्यूटर ऑपरेटर की नौकरी के दौरान उसे करप्ट सिस्टम का हिस्सा बनने के लिए कहा गया. जिला परिवहन कार्यालय के अधिकारियों ने उसे रिश्वत लेने और करप्ट सिस्टम में शामिल होने के लिए कहा. लेकिन जब कंप्यूटर ऑपरेटर मुकेश ने इनकार किया तो शराब पीने के झूठे केस दर्ज करवाकर जेल भिजवा दिया गया.

डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद के सामने मुकेश ने इस पूरे मामले का खुलासा किया. मुकेश का आरोप है कि शराब नहीं पीने के बावजूद उसे झूठे मामले में फंसाया गया. मकसद केवल इतना था कि जिला परिवहन कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार का वह हिस्सा बन जाए. वह भी दूसरे अधिकारियों और कर्मियों की तरह रिश्वत ले. लेकिन मुकेश ने इसमें सहमति नहीं दी. जिसके बाद उसे शराब पीने के झूठे मामले में जेल भिजवा दिया गया. 12 दिनों तक मुकेश को जेल में रहना पड़ा.डिप्टी सीएम के सामने जब यह मामला आया तो उन्होंने तत्काल परिवहन विभाग के अधिकारियों से फोन पर बातचीत की. इस मामले की जांच कराने का भी आदेश दिया. ईमानदारी की इतनी बड़ी सजा मुकेश को मिली कि उसकी नौकरी चली गई. शराबबंदी कानून के तहत केस दर्ज हुआ सो अलग. हालांकि अब डिप्टी सीएम के जनता दरबार में पहुंचने के बाद मुकेश को न्याय की उम्मीद जगी है.देखना है कबतक इस युवक को न्याय मिलता है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

क्रूड ऑयल 110 डॉलर के पार, जान लीजिए आपके शहर में आज क्या है पेट्रोल-डीजल का हाल ?     |     स्ट्रेस के इन लक्षणों को पहचानकर तनाव दूर करने के लिए अपनाएं ये नेचुरल तरीके     |     करीब 30 साल बाद शनि जयंती पर बन रहा खास संयोग     |     वट सावित्री व्रत पर वटवृक्ष की होती है परिक्रमा     |     मुख्यमंत्री बघेल ने अबूझमाड़ के छोटेडोंगर में आम जनता से की भेंट-मुलाकात     |     मुख्यमंत्री चौहान से मिले नाबार्ड के मुख्य महाप्रबंधक     |     यात्र‍ियों के ल‍िए रेलवे ने बदले सफर के न‍ियम, आपकी सहूल‍ियत के ल‍िए क‍िया यह बदलाव     |     जानें कब है निर्जला एकादशी     |     पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर पीएम मोदी और सोनिया गांधी ने दी श्रद्धांजलि     |     कमलनाथ ने बताई कांग्रेस की कमी, कहा-हम इस बात का इंतजार करते रह जाते हैं     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374