Breaking
गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध, गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन। गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम। गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप, गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक। गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच। गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन, गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन. गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।

नई दिल्ली। 9 वर्षीय मासूम की रेप के बाद हत्या, कैसे इस केस को सुलझायेगी पुलिस:चिता से मिले दो पैर।

दिल्ली के कैंट इलाके में 9 साल की बच्ची के कत्ल और रेप का मामला पुलिस के लिए चुनौती बनता जा रहा है . पुलिस उसकी मौत की वजह तलाश कर रही है . पुलिस पता लगाना चाहती है कि बच्ची के साथ रेप हुआ था या नहीं ? लेकिन इस केस में सबसे बड़ी मुश्किल यह है पुलिस के पास जांच के नाम पर केवल चिता से निकले हुए बच्ची के दो पैर हैं . ऐसे में सवाल उठता है कि मात्र जले हुए पैरों से पुलिस कैसे पता लगाएगी कि ये मामला रेप के बाद कत्ल का है या नहीं वही ये समझने की ज़रूरत है कि इस मामले में दिल्ली पुलिस की जांच किस दिशा में जा रही है. दरअसल, इस केस में चार आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस ने मौका-ए-वारदात की दोबारा जांच के लिए देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई और सीएफएसएल टीम की मदद ली है. दिल्ली पुलिस सीएफएसएल की टीम के साथ मौके पहुंची और छानबीन की.

फोरेंसिक टीम ने सबसे पहले आरोपी पुजारी पंडित राधेश्याम के कमरे की गहन जांच की. उसके बिस्तर पर बिछी हुई चादर, तकिए और उसके पहने गए कपड़ों को जांच के लिए सीज़ कर लिया गया है. सीएफएसएल की टीम डीएनए प्रोफाइलिंग और माइक्रो साइंटिफिक इन्वेस्टिगेशन के जरिए आरोपी के कमरे की चादर और तकिए पर किसी भी तरह से खून के निशान, वीर्य के निशान, शरीर के रोएं और बालों की मौजूदगी का पता लगाएगी.साथ ही दिल्ली पुलिस जल्द ही चारों आरोपियों के खून की जांच के लिए नमूने भी लेगी. ताकि उनके डीएनए जांच की जा सके. शुरुआती जांच में इलेक्ट्रिशयन टीम ने वाटर कूलर का मुआयना किया तो मशीन में शार्ट-सर्किट होना पाया गया. अब दिल्ली पुलिस इस वाटर कूलर मशीन को सीज़ करके फॉरेंसिक एग्जामिनेशन के लिए भेज रही है. इस मशीन पर फिंगरप्रिंट मिलने की संभावनाएं भी हैं. 

क्योंकि यह मामला बेहद उलझा हुआ है, लिहाजा दिल्ली पुलिस जल्द ही आरोपियों का पॉलीग्राफ और नार्को एनालिसिस टेस्ट कराएगी. इसके लिए पुलिस आरोपियों को रिमांड पर लेगी. गौरतलब है कि ऐसा टेस्ट कराने के लिए दिल्ली पुलिस को अदालत और अभियुक्त की इजाजत लेनी पड़ेगी. इन सब टेस्ट के बाद ही इस मामले की असलियत सामने आ सकती है.

जांच क्राइम ब्रांच के हवाले

उधर, इस मामले की गंभीरता को देखते हुए इसे त्वरित सुनवाई और और वैज्ञानिक जांच के मद्देनजर दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को स्थानांतरित कर दिया गया है. दिल्ली कैंट थाने में दर्ज मुकदमा अपराध संख्या 261/21 की जांच अब क्राइम ब्रांच करेगी. 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध,     |     गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन।     |     गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम।     |     गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप,     |     गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक।     |     गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच।     |     गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम     |     गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन,     |     गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन.     |     गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।     |    

विज्ञापन के लिए हमसे संपर्क करें - +919431277374