कानपुर : शादी के छह माह नहीं बीते कि विवाहिता ने फांसी लगा दी जान… |

मायके पक्ष ने दमाद व ससुरालियों पर लगाया बेटी की मौत का आरोप

विवेक सिहं

सुनामी एक्सप्रेस न्यूज
कानपुर। बड़े अरमानों के साथ बेटी की शादी पिता ने की, उसे अच्छा पति व ससुराल मिले। लेकिन शादी के छह माह नही बीते कि ससुरालियों की प्रताड़ना से आहत होकर विवाहिता ने फांसी लगा ली। इधर बेटी के मौत की खबर मिलते ही परिवार वाले ससुराल पहंुच गये और हत्या का आरोप लगाकर हंगमा शुरु कर दिया। पुलिस ने कार्रवाई आश्वासन देकर शांत कराया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

बाबूपुरवा के बेगमपुरवा निवासी शहजाद अहमद ने अपनी बेटी शाहीन (22) की शादी 4 अक्टूबर 2015 को महाराजपुर के सुंदरनगर गांव में रहने वाले शाहिद आलम से की थी। शाहीद रुमा हेलमेट फैक्ट्री में प्राइवेट जाॅब करता है। पिता का कहना है कि शाहिद आलम के पड़ोसियों ने यह सूचना दी कि शाहीन ने दुपटटे के सहार छत में लगे कुंडे से फांसी लगा ली। यह खबर मिलत ही घर में कोहराम मच गया। भाई फिरोज अख्तर अपनी मां अफसर जहां पिता व अन्य रिश्तेदारों को लेकर बहन के घर पहंुचा। जहां शाहिद व उसके भाई लोग भाग निकले।

इस पर मायके पक्ष ने बेटी की मौत व दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरु कर दिया। बवाल की जानकारी होने पर महाराजपुर थाने की पुलिस मौके पर पहंुच गयी। पुलिस ने शव को कुंडे से नीचे उतारकर मामले की तहकीकात शुरु कर दी। वहीं मायके पक्ष ने बेटी की हत्या व दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी है। थानाध्यक्ष ने बताया शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और तहरीर लेकर मामले की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *