कमल सरकार ने सत्ता में आते ही किया किसानों के साथ छल_

एक बार फिर किया कमल सरकार ने किसानों के साथ छल..

*राष्ट्रीय कृत बैंको का कैसे करेगी कर्जमाफी*
*इसका अधिकार तो केन्द्र सरकार का है*

*आखिर अक्टूबर 2018तक को कर्ज माफि में क्यो शामिल नही किया गया*

*_अगर ऐसा नही हुआ तो किसान 2019मे ब्याज सहित वापस कर लेगे_*

मध्यप्रदेश कमलनाथ सरकार के बचन पत्र पर किसान टकटकी लगाकर देख रहे थे और किसानो के अथक प्रयास से कांग्रेस सरकार बनी है,उसके बाद भी कांग्रेस सरकार किसानो के साथ धोखा कर रही है जो न्याय संगत कतई नही है,और इसका परिणाम 2019के चुनाव मे दिखाई देगा।जी हा आखिर अक्टूबर 2018 को कर्ज माफी में क्यो नही शामिल किया गया आखिर क्या वजह है कि मार्च 2018 तक का कर्ज ही माफ करने की घोषणा की गई हैं ।
सबसे बड़ा तो सबाल तो यह है कि क्या राष्ट्रीय कृत बैंको का कर्ज माफ करने का अधिकार राज्यसरकार को है और अगर नही है तो फिर क्यो झुठी घोषणा की गई क्या सिर्फ कुर्सी के लिए अगर सभी किसानों के कर्ज अक्टूबर 2018 तक का नही माफ होता है इसका जबाब किसान 2019 लोक सभा चुनाव में मोदी सरकार को चुनकर देंगे…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *