Sunami News_गारियाबन्द जिले के पंचायत सचिवों ने पांच सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चित कालीन हडताल पर जाने की दी चेतावनी।

​​गरियाबन्द जिले के पंचायत सचिवों ने पांच सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चित कालीन हडताल पर जाने की दी चेतावनी।

​​छुरा ।गरियाबंद जिले के जिला पंचायत सचिव संघ के सदस्यों ने बैठक आहूत कर के अपने पांच सूत्री मांगों को लेकर निर्णय लिया है कि मांग पूरी नहीं होने की दशा में 23 जनवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाने की अल्टीमेटम ज्ञापन जिले के जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी को दिये हैं। निम्नांकित मांगों के समर्थन में हडताल पर जाने का निर्णय लिया है जो निम्नानुसार हैः-
1. विगत माह अक्टूबर 2018 से दिसम्बर 2018 तक 03 माह का वेतन तत्काल दिया जावे। तथा प्रत्येक माह के 5 तारीख तक सचिवों का वेतन नियमित भुगतान किया जावे।
2. अगस्त 2013 से मार्च 2018 तक बढे हुये वेतन का एरियर्स राशि अतिशीघ्र प्रदाय किया जावे।
3. प्रधानमंत्री आवास योजना अन्तर्गत शिकायत होने पर पंचायत सचिवों को ही दोषी मानकर कार्यवाही किया जाता है, तथा हितग्राही के खाते में गये राशि वसुली पंचायत सचिवों से किया जाता है जो कि अनैतिक है, राशि वसूली संबंधित हितग्राही से किया जावे तथा जनपद पंचायत द्वारा बिना परीक्षण किये हितग्राही के खाते में एफ.टी.ओ. किया है, किन्तु कार्यवाही केवल पंचायत सचिवों पर होता है जनपद पंचायत के संबंधित कर्मचारी के उपर कार्यवाही नही किया जाता है। हमारा मांग है कि दोषी पंचायत /जनपद पंचायत दोनो के कर्मचारी अधिकारी पर नियमानुसार कार्यवाही किया जावे।
4. प्रधानमंत्री आवास योजना में जिले में जितने सचिवों का निलंबन हुआ है तत्काल बहाल किया जावे तथा वेतनवृध्दि संचयी प्रभाव से रोका गया है उसे शिथिल करते हुये असंचयी किया जावे।
5. ग्राम पंचायत मजरकटटा जनपद पंचायत गरियाबंद में रोजगार सहायक को हटाकर जनपद पंचायत में संलग्न सचिव को पदभार दिया जावे एवं जनपद पंचायत गरियाबंद में संलग्न पंचायत सचिवों को ग्राम पंचायतों में पदस्थापना किया जावे।
​अतः उपरोक्तानुसार हमारी जायज मांगों को एक सप्ताह के भीतर दिनांक 22.01.2019 तक पूरा नही किया जाता है तो हम अनिश्चित कालीन काम बंद, कलम बंद हडताल में जाने हेतु बाध्य होंगे। जिसकी सम्पूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन की होगी।उक्ताशय की जानकारी जिला सचिव संघ अध्यक्ष प्रवीण कुमार साहू ने विज्ञप्ति में दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *