रांची।मौसेरे देवर से था पत्नी का संबंध, प्यार के लिए रेत दिया पति का गल्ला।

विजय शुकुळा।

रामगढ़ कोर्ट के अधिवक्ता अजय महतो की हत्या उसकी पत्नी और मौसेरे भाई ने मिलकर की है। हत्या के पीछे की वजह पत्नी का अवैध संबंध था। इस मामले का खुलासा सनीवार को एसपी प्रभात कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया है। उन्होंने बताया कि अजय महतो की हत्या उसकी पत्नी विराजो कुमारी उर्फ सुमन और मौसेरे भाई हेमंत कुमार उर्फ टिंकू ने मिलकर की है। पुलिस ने सुमन और हेमंत दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही वारदात को अंजाम देने के लिए प्रयुक्त में लाए गए चाकू को भी पुलिस ने बरामद किया है।

1 अप्रैल को अजय महतो को साथ ले गया था हेमंत

एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि रजरप्पा थाना क्षेत्र के उरबा गांव निवासी हेमंत कुमार उर्फ टिंकू सेवराडीह, बोरोबिंग अपने मौसेरे भाई के घर अक्सर आता जाता रहता था। 1 अप्रैल को भी वह अपनी बाइक जेएच 01 सीएक्स 9046 से सेवराडीह पहुंचा और अजय महतो को घूमने के लिए अपने साथ ले गया। दोपहर 2:00 बजे जब वह घर से निकला तो रामगढ़, पतरातु रिसोर्ट, पिथोरिया घाटी के साथ-साथ कई स्थानों पर उसे ले गया। हर जगह होटल में खाना-पीना खिलाया। 2 अप्रैल की रात वह रामगढ़ कोर्ट के पास एनएच 23 पर बंद पड़े होटल कृष्णा पैलेस में सो गया। सुबह लगभग 2:00 से 3:00 बजे हेमंत उठा और उसने गला दबाकर अजय की हत्या कर दी‌। उसने इस मौत को और पुख्ता करने के लिए चाकू से उसका गला रेत दिया।

2 वर्षों से चल रही थी हत्या की साजिश

विराजो कुमारी और सुमन और अजय महतो की शादी वर्ष 2018 में हुई थी। लेकिन शादी के बाद से ही दोनों के बीच वैवाहिक संबंध बहुत अच्छे नहीं रहे। पति पत्नी के बीच के रिश्ते में दरार पड़ी, तो सुमन ने अपने मौसेरे देवर हेमंत के साथ अपना संबंध बना लिया। शादी के कुछ ही दिन बाद जब दोनों प्रेम में परवान चढ़ने लगे, तो उसी वक्त अजय महतो की हत्या की साजिश का ताना-बाना बुना जाने लगा। कई बार अजय की हत्या करने का प्रयास सुमन और हेमंत ने मिलकर की। लेकिन हर बार वे नाकाम रहे। 1 अप्रैल को जब हेमंत सुमन के घर पहुंचा तो उसने अजय को मार डालने का पूरा मन बना लिया था। लगभग 30 घंटे तक हेमंत, अजय के साथ घूमता फिरता रहा। इस दौरान उसने कई बार उसे मारने का प्रयास भी किया। लेकिन शायद वह पूरी हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था। इस दौरान वह लगातार सुमन के संपर्क में भी था। 2 अप्रैल की देर रात जिस वक्त हत्या हुई उस वक्त भी हेमंत और सुमन के बीच फोन पर बात हुई थी। हेमंत ने सुमन को अजय की मौत की खबर सुनाई।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *