Breaking
आंखों में मिर्ची डालकर ले गए डेढ़ लाख रुपए, पुलिस तलाश में जुटी मुख्यमंत्री चौहान ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर नमन किया 15 साल की किशोरी रेप, मंडीदीप, रायसेन में छिपकर करता रहा मजदूरी 21वीं राज्य स्तरीय बैडमिंटन स्पर्धा के लिए चुने गए जिले के खिलाड़ी इन घरेलू उपायों से मोटापा करें कम महेंद्रगढ़ में सरकारी जमीन पर कब्जा करके बनाया घर जमींदोज, पुलिस फोर्स रही मौजूद समाज के हर वर्ग के लिए काम कर रही सरकार- पंकज चौधरी सर्व आदिवासी समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की सौजन्य मुलाकात प्रसव के लिए रुपये लेने का आरोप एंटी भू-माफिया के तहत तीन के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्रवाई

भोपाल में पुराने ट्रैक पर हो रहा ड्राइविंग टेस्‍ट, नए आरटीओ भवन का ट्रैक सूना पड़ा

Whats App
भोपाल। राजधानी के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) की ड्राइविंग लाइसेंस शाखा को कोकता में शिफ्ट हुए एक साप्ताह से अधिक समय हो गया है। इसके बाद भी वहां पर पूरी तरह से ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनाए जा रहे हैं। अब भी सात नंबर मानसरोवर काम्प्लेक्स के पीछे पुराने भवन में बने ट्रैक पर ही गाड़ियों को चलवा कर परिवहन अधिकारी देख रहे हैं। वाहन चलाने में सफल होने के बाद फोटो कराने, फिंग्रर प्रिंट कराने के लिए लोगों को कोकता ट्रांसपोर्ट नगर भेजा रहा है। कोकता ट्रांसपोर्ट नगर में बने आरटीओ परिसर का आटोमैटेड ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक खाली पड़ा रहता है। अभी ट्रैक पर लगे कैमरे व सर्वर रूम में कंम्प्यूटर सिस्टम ठीक से काम नहीं करने से ड्राइविंग टेस्ट नहीं हो पा रहा है
इधर कोकता ट्रांसपोर्ट नगर में आरटीओ की ड्राइविंग शाखा भले ही शिफ्ट हो गई है, लेकिन पूरी तरह से शिफ्टिंग नहीं होने से लोगों को आरटीओ संबंधी कार्य कराने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। आरटीओ शहर से दूर होने से लोगों को लाइसेंस बनवाने के लिए फोटो कराने के लिए 15 से 25 किमी तक की दूरी तय करनी पड़ रही है। वहीं ड्राइविंग ट्रैक शुरू नहीं होने से पुराने आरटीओ में भी आनलाइन आवेदन कराने के लिए कियोस्क के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। आरटीओ दूर होने से रोजाना बनने वाले लाइसेंसों की संख्या में भी कमी आई है। पहले रोजाना 350 तक ड्राइविंग लाइसेंस बनते थे, अब नए भवन में 200 तक रोजाना बन रहे हैं। आरटीओ संबंधी आनलाइन काम देख रही स्मार्टचिप कंपनी के भोपाल आरटीओ प्रभारी राजेश शर्मा ने बताया कि धीरे-धीरे व्यवस्था दुरुस्त हो रही है। कंप्यूटर सिस्टम नए भवन में काम करने लगे हैं। लाइसेंस धारकों के फोटो खींचने का काम कोकता में ही किया जा रहा है। आगामी दिनों में व्यवस्था ठीक हो जाएगी। लोगों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। दरअसल अभी कोकता में बने आरटीओ के नए भवन विधिवत लोकार्पण नहीं हुआ। आरटीओ का लोकार्पण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत करने वाले थे। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को बुलाया जाना था, लेकिन अब तक आरटीओ का लोकार्पण नहीं हो पा रहा है, जिससे पूरी तरह से आरटीओ को शिफ्ट नहीं किया जा रहा है।
Whats App
एक नजर में आरटीओ
03 करोड़ रुपये से कोकता में आठ के आकार को आटोमैटेड ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक बना है।
19 दिसंबर को आरटीओ की ड्राइविंग लाइसेंस शाखा को शिफ्ट किया गया था।
200 से 250 तक रोजाना ड्राइविंग लाइसेंस बनाए जा रहे हैं।
350 तक रोजाना ड्राइविंग लाइसेंस बनाए सात नंबर कार्यालय में बनाए जाते थे।
70 तक ड्राइविंग लाइसेंसों का नवीनीकरण हो रहा है।
200 तक ड्राइविंग लाइसेंसों का नवनीकरण होता था।

आंखों में मिर्ची डालकर ले गए डेढ़ लाख रुपए, पुलिस तलाश में जुटी     |     मुख्यमंत्री चौहान ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर नमन किया     |     15 साल की किशोरी रेप, मंडीदीप, रायसेन में छिपकर करता रहा मजदूरी     |     21वीं राज्य स्तरीय बैडमिंटन स्पर्धा के लिए चुने गए जिले के खिलाड़ी     |     इन घरेलू उपायों से मोटापा करें कम     |     महेंद्रगढ़ में सरकारी जमीन पर कब्जा करके बनाया घर जमींदोज, पुलिस फोर्स रही मौजूद     |     समाज के हर वर्ग के लिए काम कर रही सरकार- पंकज चौधरी     |     सर्व आदिवासी समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की सौजन्य मुलाकात     |     प्रसव के लिए रुपये लेने का आरोप     |     एंटी भू-माफिया के तहत तीन के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्रवाई     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374