Breaking
स्पीकर ने लिखा लेटर; बोले- पंचकूला के यात्रियों को भी मिलें चंडीगढ़ जैसी सुविधाएं इटावा में पंचनद के तट पर चंबल के वीरों को किया याद, जलाए गए 151 दीप क्या Prabhas के साथ रिलेशनशिप में हैं Kriti Sanon? वरुण धवन ने किया खुलासा इंडोनेशिया सरकार ने भूकंप पीड़ितों के लिए सैकड़ों घरों के पुनर्निर्माण की योजना बनाई गुजरात में बनेगी आप की सरकार भाजपा-कांग्रेस को लगेगा झटका : केजरीवाल का दावा आवास दिलाने के नाम पर धोखे से लिखवा लिया गरीब की जमीन गिरफ्तारी के लिए घर में घुसी पुलिस से घबरा कर आरोपी के बुजुर्ग पिता की मौत लोगों ने पुलिस को बंधक बन... फुटबॉल मैच के दौरान भिड़े खिलाड़ी,छह को मिला रेड कार्ड पुलिस ने दबिश देकर 13 टंकियों से 2500 ली. लहान नष्ट किया, 1 लाख कीमत की थी ग्रामीणों में आक्राश, बोले-जल्द ही मरम्मत नहीं होने पर होगा आंदोलन

आने वाले कुछ सप्‍ताह में आतंकी घटनाओं से हिल सकता है पाकिस्‍तान, विशेषज्ञों ने किया आगाह

Whats App

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान में आने वाले दिनों में आतंकी घटनाओं में और अधिक इजाफा हो सकता है। हाल के दिनों में बढ़ी आतंकी घटनाओं के मद्देनजर स्‍थानीय मीडिया ने इस संबंध में विशेषज्ञों के हवाले से ये बात कही है। पाकिस्‍तान के आंतरिक मंत्री शेख राशिद सरकार पूरी तरह से सतर्क है और सभी एजेंसियों से भी पूरी तरह से अलर्ट रहने को कहा गया है। उनके मुताबिक ये अलर्ट लाहौर के अनारकली इलाके में हुए धमाके के बाद किया गया है। इस धमाके तीन लोगों की मौत हुई है जबकि 26 अन्‍य घायल हुए हैं।

पाकिस्‍तान के अखबार द डान ने ग्रोइंग टेररिज्‍म थ्रिएट्स शीर्षक से एक ओपेनियन भी प्रकाशित किया है जिसमें बढ़ती आतंकी घटनाओं और तहरीक एक तालिबान (टीटीपी) पर चिंता जताई गई है। इसमें कहा गया है कि अफगानिस्‍तान में तालिबान की सरकार बनने के बाद से पाकिस्‍तान में टीटीपी की आतंकी घटनाएं बढ़ी हैं। केंद्रीय मंत्री राशिद ने शनिवार को कहा था कि देश में 15 अगस्‍त 2021 के बाद से आतंकवाद की घटनाओं में करीब 35 फीसद का इजाफा हुआ है। लेकिन इस तरह की घटनाएं देश को तोड़ नहीं सकती हैं न ही देश और सेना को कमजोर कर सकती हैं।

राशिद ने ये भी कहा कि जिन छोटे-छोटे आतंकी समूहों को तालिबान ने हराया है वो समूह पाकिस्‍तान में भय का वातावरण बनाना चाहते हैं। पाकिस्‍तान में अखबार द डान में पाकिस्‍तान के सुरक्षा विशेषज्ञ मुहम्‍मद आमिर राणा ने लिखा है कि ये ग्रुप पाकिस्‍तान में डर व्‍याप्‍त करना चाहते हैं। यदि आने वाले दिनों में देश में और आतंकी घटनाएं हुईं तो एक बार फिर से सड़कों पर बैरिकेट भी दिखाई देने लगेंगे। पिछले कुछ समय में सिक्‍योरिटी चेक प्‍वाइंट्स काफी कम हो गए थे। राणा ने ये भी कहा है कि पाकिस्‍तान में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने वाला संगठन केवल टीटीपी ही नहीं है बल्कि कुछ दूसरे ग्रुप भी हैं जिनको अल कायदा और ईस्‍ट तुर्कीस्‍तान इस्‍लामिक मूवमेंट का समर्थन मिल रहा है।

Whats App

पाकिस्‍तान के सुरक्षा विशेषज्ञों के बीच यहां तक बहस छिड़ी हुई है कि टीटीपी अलकायदा और ईटीआईएम के बीच कोई गुप्‍त समझौता हो गया है। इस समझौते की वजह कहीं न कहीं कूटनीतिक विवाद है। इनका मानना है कि पाकिस्‍तान को इनसे निपटने के लिए अलग तरह की सोच और रणनीति अपनानी होगी, जिससे लोगों का जीवन बचाया जा सके।

स्पीकर ने लिखा लेटर; बोले- पंचकूला के यात्रियों को भी मिलें चंडीगढ़ जैसी सुविधाएं     |     इटावा में पंचनद के तट पर चंबल के वीरों को किया याद, जलाए गए 151 दीप     |     क्या Prabhas के साथ रिलेशनशिप में हैं Kriti Sanon? वरुण धवन ने किया खुलासा     |     इंडोनेशिया सरकार ने भूकंप पीड़ितों के लिए सैकड़ों घरों के पुनर्निर्माण की योजना बनाई     |     गुजरात में बनेगी आप की सरकार भाजपा-कांग्रेस को लगेगा झटका : केजरीवाल का दावा     |     आवास दिलाने के नाम पर धोखे से लिखवा लिया गरीब की जमीन     |     गिरफ्तारी के लिए घर में घुसी पुलिस से घबरा कर आरोपी के बुजुर्ग पिता की मौत लोगों ने पुलिस को बंधक बनाया      |     फुटबॉल मैच के दौरान भिड़े खिलाड़ी,छह को मिला रेड कार्ड     |     पुलिस ने दबिश देकर 13 टंकियों से 2500 ली. लहान नष्ट किया, 1 लाख कीमत की थी     |     ग्रामीणों में आक्राश, बोले-जल्द ही मरम्मत नहीं होने पर होगा आंदोलन     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374