Breaking
विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने आतंकवादियों का पुतला जलाया रोहतक मंडल में 3491 मामले लंबित, जिनकी 50.98 करोड़ राशि हेल्थ, स्किन और हेयर का रखे ख्याल पॉलिटेक्निक कॉलेज में परीक्षा देने गए थे, चोर ने एक्टिवा का बूट स्पेस खोलकर चुराए मोर माजरा गांव के युवक का स्टंट, तेज स्पीड में नहर में कूदने का VIDEO वायरल पीवी सिंधू क्वार्टरफाइनल में पहुंची रोहित के संक्रमित होने पर इंग्लैंड बुलाए गए मयंक अग्रवाल सहकारी संस्था का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए मांगे थे 60 हजार रुपए सेगांव में 25 वर्षीय युवती ने लगाई फांसी, मामले की जांच में जुटी पुलिस भारत में अगले आने वाली 5 सालों में इलेक्ट्रिक वाहन की मांग काफी तेज

लालू और राबड़ी के मनाने पर तेजप्रताप ने धरना किया खत्म, बोले-तेजस्वी को नहीं बनने देंगे सीएम

Whats App

पटना : राजद प्रमुख लालू प्रसाद का विवादों से पुराना नाता रहा है। दिल्ली से पटना आने के साथ ही बिहार की राजनीति के साथ लालू परिवार में भी दोतरफा विवाद खड़ा हो गया है। पहले से ही पार्टी और परिवार में खुद को उपेक्षित महसूस करते आ रहे तेजप्रताप यादव ने राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद के व्यवहार से आहत होकर पार्टी से नाता तोड़ने का ऐलान कर दिया। जगदानंद को पार्टी से बाहर निकालने की मांग को लेकर देर रात अपने आवास के बाहर धरने पर बैठ गए। रविवार रात साढ़े नौ बजे के करीब राबड़ी देवी और लालू प्रसाद के पहुंचने पर ही तेजप्रताप माने और धरना खत्म किया। पहली बार तेजप्रताप ने अपने ‘अर्जुन’ (भाई तेजस्वी यादव) पर भी खुलकर हमला बोला है। कहा कि यही रवैया रहा तो अर्जुन गद्दी पर नहीं बैठ पाएंगे। उन्हें मुख्यमंत्री नहीं बनने देंगे।

धरने पर बैठते समय तेजप्रताप ने कहा कि अंधड़ आए या शीत गिरे। पिता के आने तक धरना जारी रहेगा। उनके निशाने पर जगदानंद सिंह के साथ तेजस्वी यादव के सलाहकार संजय यादव हैं। दिल्ली से चलने के पहले लालू ने दोनों भाइयों में किसी तरह के विवाद से इनकार किया था और कहा था कि दोनों एक हैं। पटना हवाईअड्डे पर लालू की अगवानी के लिए गए तेजप्रताप ने जगदानंद सिंह और विधान परिषद सदस्य सुनील कुमार सिंह पर आरोप लगाया कि उनके लोगों ने उन्हें धक्का दिया। राबड़ी देवी के आवास के बाहर भी उनके लोगों ने उन्हें ठेला। लिहाजा, वह बाहर से ही लौट गए और मीडिया में तल्ख बयान भी दिया। कहा कि राजद के प्रदेश अध्यक्ष ने मेरी बेइज्जती की। अपने गुंडों से धक्का दिलवाया। तेजप्रताप ने दोनों को आरएसएस का एजेंट बताया। कहा कि जबतक उन्हें राजद से बाहर नहीं किया जाएगा, तबतक मेरा राजद से कोई मतलब नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि मेरे पिता गाड़ी के अंदर थे। उन्होंने नहीं देखा है। वह कार्रवाई करें तभी मैैं परिवार और पार्टी में लौटूंगा।

तेजस्वी बच्चा नहीं, सुधर जाएं

Whats App

देर रात अपने समर्थकों के साथ धरना पर बैठे तेजप्रताप ने अपने भाई तेजस्वी के खिलाफ खुलकर बोले। चेताया भी कि रवैया सुधारें, नहीं तो संघर्ष होगा। वह बच्चा नहीं हैं। अब बड़े हो गए हैं। उन्होंने कहा कि मैं संघर्ष की उपज हूं। लगातार बोलता रहा हूं कि मुझे अपने अर्जुन को मुख्यमंत्री बनाना है, किंतु अब दुख हो रहा है। तेजस्वी और संजय पर आरोप लगाया कि पार्टी का अपहरण कर लिया है। कहा कि संजय को साथ लेकर चलिएगा तो पार्टी का भला नहीं होगा। उन्हें कौन पहचानता है।

पिता के स्वागत की भव्य तैयारी थी

राबड़ी देवी के सरकारी आवास से अलग रह रहे तेजप्रताप ने अपने स्तर से पिता के स्वागत की तैयारी कर रखी थी। अपने आवास में बड़े अरमान से लिखवाया था-वेलकम माई फादर। दरवाजे को गुब्बारे से सजाया था। हवाई अड्डे पर भी अपने नए संगठन जनशक्ति परिषद की टोली के साथ उत्साह के साथ गए थे। लालू के आने के करीब दो घंटे पहले ट्वीट कर पिता को शेर बताया था और विरोधियों गीदड़। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और सुशील मोदी से आग्रह किया था कि लालू के स्वागत में वे भी फूल-माला लेकर हवाई अड्डा पहुंचें, लेकिन उनके अरमान को उस समय धक्का लगा जब उनकी अपेक्षाओं के अनुरूप माहौल नहीं मिला। हवाईअड्डे पर पार्टी नेताओं की ओर से सम्मान नहीं मिला। राबड़ी देवी के आवास तक आते-आते सब्र जवाब दे गया।

विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने आतंकवादियों का पुतला जलाया     |     रोहतक मंडल में 3491 मामले लंबित, जिनकी 50.98 करोड़ राशि     |     हेल्थ, स्किन और हेयर का रखे ख्याल     |     पॉलिटेक्निक कॉलेज में परीक्षा देने गए थे, चोर ने एक्टिवा का बूट स्पेस खोलकर चुराए     |     मोर माजरा गांव के युवक का स्टंट, तेज स्पीड में नहर में कूदने का VIDEO वायरल     |     पीवी सिंधू क्वार्टरफाइनल में पहुंची     |     रोहित के संक्रमित होने पर इंग्लैंड बुलाए गए मयंक अग्रवाल     |     सहकारी संस्था का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए मांगे थे 60 हजार रुपए     |     सेगांव में 25 वर्षीय युवती ने लगाई फांसी, मामले की जांच में जुटी पुलिस     |     भारत में अगले आने वाली 5 सालों में इलेक्ट्रिक वाहन की मांग काफी तेज     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374