Breaking
दूसरे हॉकी टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 7-4 से हराया चलती बस में लगी आग,चालक ने सूझबूझ से बचाई 40 लोगों की जान घटाई गई शिवपाल सिंह यादव की सुरक्षा श्रेणी , अब 'वाई श्रेणी' की सुरक्षा में रहेंगे लगन चढ़ाकर दिल्ली लौट रहे लोगों की कार लोडर से टकराई,दो की मौत,आठ घायल शिव ठाकरे ने पलटा गेम निमृत को बनाया घर का नया कैप्टन, भड़कीं टीना दत्ता सुनक का विदेशी छात्रों को ब्रिटेन में प्रतिबंधित करने के विचार का हो सकता है विरोध सोने और चांदी का आयात घटा मप्र के देवास में स्कूल बस हुई दुर्घटनाग्रस्त, दो बच्चों को आई चोट आइसक्रीम खाने से गले की खराश होगी गायब कोरेक्स की डिलीवरी देते समय 3 तस्कर गिरफ्तार, 25 हजार रुपए की 170 शीशी कफ सिरप जब्त

पॉलिसी का 37.5 करोड़ लेने के लिए शख्स ने अपनी ही मौत का रचा ड्रामा, बेसहारा व्‍यक्ति को कोबरा से डसवाया

Whats App

मुंबई-  पैसों की लालच में एक शख्स ने बेसहारा व्‍यक्ति को कोबरा से डसवाकर मार डाला। यह  चौंकाने वाली घटना महाराष्‍ट्र के अहमदनगर में सामने आई है। यहां रह रहे एक 54 साल के व्‍यक्ति ने खुद की बीमा राशि पाने के लिए अपनी ही मौत का ड्रामा रच एक बेसहारा व्‍यक्ति की जान ले ली, दरअसल, उसे कोबरा से डसवाकर मार डाला।

अमेरिका की इंश्‍योरेंस कंपनी में चल रही पॉलिसी का 37.5 करोड़ रुपए लेने के लिए इस शख्स ने यह सारी गेम खेली। लेकिन उसकी इस साजिश का भंडाफोड़ तब हुआ जब इंश्‍योरेंस कंपनी के अफसरों ने पुलिस से मामले में जानकारी जुटाई। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी और उसके 4 साथियों को पकड़ लिया है।

पुलिस के मुताबिक प्रभाकर भीमाजी वाघचौरे नाम का व्‍यक्ति 20 साल से अमेरिका में रह रहा था। वह जनवरी में भारत लौटने के बाद महाराष्‍ट्र के अहमदनगर जिले के राजूर गांव में रहने लगा था। 22 अप्रैल को अहमदनगर के राजूर पुलिस स्टेशन के अधिकारियों को स्थानीय सरकारी अस्पताल से वाघचौरे की मौत के बारे में एक रिपोर्ट मिली थी।

Whats App

दरअसल, जब एक पुलिस कांस्टेबल अस्पताल गया तो एक व्यक्ति ने खुद को वाघचौरे का भतीजा बताया और प्रवीण नाम के इस व्‍यक्ति ने शव की पहचान वाघचौरे के रूप में की। राजूर निवासी हर्षद लाहमगे नाम के एक व्‍यक्ति ने भी शव को वाघचौरे के रूप में पहचाना। पुलिस ने प्रारंभिक मेडिकल रिपोर्ट प्राप्त करने के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए भतीजे प्रवीण को सौंप दिया। इस रिपोर्ट में मौत का कारण सांप का डसना बताया गया था।

इस पूरी साजिश का खुलासा तब हुआ, जब वाघचौरे के जीवन बीमा दावे की जांच कर रही बीमा कंपनी के अधिकारियों ने अहमदनगर के पुलिस अधिकारियों से संपर्क कर उसकी मौत के बारे में अधिक जानकारी मांगी। जांच के तहत पुलिस शुरुआत में राजूर में वाघचौरे के घर पहुंची, एक पड़ोसी ने कहा कि उसने सांप के डसने जैसी घटना के बारे में नहीं सुना था, लेकिन कथित घटना के समय घर में एक एम्बुलेंस को आते देखा था। जब पुलिस ने लाहमगे से संपर्क किया तो उसने दावा किया कि प्रवीण की मौत कोविड से हुई है।

ऐसे में जब पुलिस ने आगे की जांच की तो वाघचौरे के कॉल रिकॉर्ड को देखना शुरू किया। जिसमें पता चला कि न केवल वह जीवित था, बल्कि उसने खुद को अस्पताल में प्रवीण के रूप में पेश किया था, इसके तुरंत बाद वाघचौरे को हिरासत में ले लिया गया।

दूसरे हॉकी टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 7-4 से हराया     |     चलती बस में लगी आग,चालक ने सूझबूझ से बचाई 40 लोगों की जान     |     घटाई गई शिवपाल सिंह यादव की सुरक्षा श्रेणी , अब ‘वाई श्रेणी’ की सुरक्षा में रहेंगे     |     लगन चढ़ाकर दिल्ली लौट रहे लोगों की कार लोडर से टकराई,दो की मौत,आठ घायल     |     शिव ठाकरे ने पलटा गेम निमृत को बनाया घर का नया कैप्टन, भड़कीं टीना दत्ता     |     सुनक का विदेशी छात्रों को ब्रिटेन में प्रतिबंधित करने के विचार का हो सकता है विरोध     |     सोने और चांदी का आयात घटा     |     मप्र के देवास में स्कूल बस हुई दुर्घटनाग्रस्त, दो बच्चों को आई चोट     |     आइसक्रीम खाने से गले की खराश होगी गायब     |     कोरेक्स की डिलीवरी देते समय 3 तस्कर गिरफ्तार, 25 हजार रुपए की 170 शीशी कफ सिरप जब्त     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374