Breaking
राजधानी में कल ये सड़कें रहेंगी ब्लॉक, कई दिग्गजों समेत सड़क पर उतरेंगे कार्यकर्ता, पब्लिक की बढ़ सक... गुजरात का पहला क्वालीफायर खेलना तय कंप्यूटर शोरूम में लगी भीषण आग पूर्व विधायक अजय राय गैंगेस्टर केस में गवाही देने गाजीपुर पहुंचे भोपाल की साइबर क्राइम टीम फर्जी मेल की जानकारी जुटाने तमिलनाडु रवाना SCO की बैठक में भारत के अलावा पाकिस्‍तान चीन और रूस भी ले रहे हिस्‍सा SBI, PNB समेत सभी सरकारी बैंक के लिए अच्छी खबर, धोखधड़ी वाले पैसों को लेकर RBI ने दी बड़ी जानकारी तपती गर्मी से जल्द मिलेगी राहत, IMD ने जारी किया बारिश का अलर्ट; जानें अपने यहां का हाल महंगा होगा हवाई सफर, 5 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ हवाई ईंधन की कीमतें पहुंची रिकॉर्ड लेवल पर पुलिस ने घेराबंदी कर 480 किलो गांजे से भरा ट्रक किया जब्त

पॉलिसी का 37.5 करोड़ लेने के लिए शख्स ने अपनी ही मौत का रचा ड्रामा, बेसहारा व्‍यक्ति को कोबरा से डसवाया

Whats App

मुंबई-  पैसों की लालच में एक शख्स ने बेसहारा व्‍यक्ति को कोबरा से डसवाकर मार डाला। यह  चौंकाने वाली घटना महाराष्‍ट्र के अहमदनगर में सामने आई है। यहां रह रहे एक 54 साल के व्‍यक्ति ने खुद की बीमा राशि पाने के लिए अपनी ही मौत का ड्रामा रच एक बेसहारा व्‍यक्ति की जान ले ली, दरअसल, उसे कोबरा से डसवाकर मार डाला।

अमेरिका की इंश्‍योरेंस कंपनी में चल रही पॉलिसी का 37.5 करोड़ रुपए लेने के लिए इस शख्स ने यह सारी गेम खेली। लेकिन उसकी इस साजिश का भंडाफोड़ तब हुआ जब इंश्‍योरेंस कंपनी के अफसरों ने पुलिस से मामले में जानकारी जुटाई। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी और उसके 4 साथियों को पकड़ लिया है।

पुलिस के मुताबिक प्रभाकर भीमाजी वाघचौरे नाम का व्‍यक्ति 20 साल से अमेरिका में रह रहा था। वह जनवरी में भारत लौटने के बाद महाराष्‍ट्र के अहमदनगर जिले के राजूर गांव में रहने लगा था। 22 अप्रैल को अहमदनगर के राजूर पुलिस स्टेशन के अधिकारियों को स्थानीय सरकारी अस्पताल से वाघचौरे की मौत के बारे में एक रिपोर्ट मिली थी।

Whats App

दरअसल, जब एक पुलिस कांस्टेबल अस्पताल गया तो एक व्यक्ति ने खुद को वाघचौरे का भतीजा बताया और प्रवीण नाम के इस व्‍यक्ति ने शव की पहचान वाघचौरे के रूप में की। राजूर निवासी हर्षद लाहमगे नाम के एक व्‍यक्ति ने भी शव को वाघचौरे के रूप में पहचाना। पुलिस ने प्रारंभिक मेडिकल रिपोर्ट प्राप्त करने के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए भतीजे प्रवीण को सौंप दिया। इस रिपोर्ट में मौत का कारण सांप का डसना बताया गया था।

इस पूरी साजिश का खुलासा तब हुआ, जब वाघचौरे के जीवन बीमा दावे की जांच कर रही बीमा कंपनी के अधिकारियों ने अहमदनगर के पुलिस अधिकारियों से संपर्क कर उसकी मौत के बारे में अधिक जानकारी मांगी। जांच के तहत पुलिस शुरुआत में राजूर में वाघचौरे के घर पहुंची, एक पड़ोसी ने कहा कि उसने सांप के डसने जैसी घटना के बारे में नहीं सुना था, लेकिन कथित घटना के समय घर में एक एम्बुलेंस को आते देखा था। जब पुलिस ने लाहमगे से संपर्क किया तो उसने दावा किया कि प्रवीण की मौत कोविड से हुई है।

ऐसे में जब पुलिस ने आगे की जांच की तो वाघचौरे के कॉल रिकॉर्ड को देखना शुरू किया। जिसमें पता चला कि न केवल वह जीवित था, बल्कि उसने खुद को अस्पताल में प्रवीण के रूप में पेश किया था, इसके तुरंत बाद वाघचौरे को हिरासत में ले लिया गया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

राजधानी में कल ये सड़कें रहेंगी ब्लॉक, कई दिग्गजों समेत सड़क पर उतरेंगे कार्यकर्ता, पब्लिक की बढ़ सकती है मुसीबतें     |     गुजरात का पहला क्वालीफायर खेलना तय     |     कंप्यूटर शोरूम में लगी भीषण आग     |     पूर्व विधायक अजय राय गैंगेस्टर केस में गवाही देने गाजीपुर पहुंचे     |     भोपाल की साइबर क्राइम टीम फर्जी मेल की जानकारी जुटाने तमिलनाडु रवाना     |     SCO की बैठक में भारत के अलावा पाकिस्‍तान चीन और रूस भी ले रहे हिस्‍सा     |     SBI, PNB समेत सभी सरकारी बैंक के लिए अच्छी खबर, धोखधड़ी वाले पैसों को लेकर RBI ने दी बड़ी जानकारी     |     तपती गर्मी से जल्द मिलेगी राहत, IMD ने जारी किया बारिश का अलर्ट; जानें अपने यहां का हाल     |     महंगा होगा हवाई सफर, 5 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ हवाई ईंधन की कीमतें पहुंची रिकॉर्ड लेवल पर     |     पुलिस ने घेराबंदी कर 480 किलो गांजे से भरा ट्रक किया जब्त     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374