Breaking
मनी एक्सचेंज मार्केट में हुआ जोरदार धमाका, विस्फोटों से दहला अफगानिस्तान सौंपा ज्ञापन, अकाली दल में इकबाल झूंदा की सिफारिशों को लागू करने की मांग अंबिकापुर में तेज रफ्तार ट्रक ने  स्कूटी सवार युवक को मारी टक्कर, मौके पर ही दर्दनाक मौत झारखंड में हाथी के हमले में डब्ल्यूआईआई का सदस्य घायल डायबिटीज ने मुश्किल कर दिया है जीना? तो इन मसालों से करे कंट्रोल भारत बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा iPhone मेकर... ब्राइडल लुक में चार चांद लगा देंगे ये ट्रेंडी लिपस्टिक कलर्स लालू प्रसाद यादव  का आज होगा सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट दान देने में भी Gautam Adani अव्वल मंत्री चौबे के बंगले के बाहर खड़ीं होकर बोलीं- हक की नौकरी भीख में दे दो

चार दिनी लोकपर्व कल से, छठ घाटों पर प्रवेश के लिए दिखाना होगा टीकाकरण का प्रमाण पत्र

Whats App

इंदौर। अहिल्या की नगरी में बिहार, झारखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश के चार दिनी लोकपर्व का उल्लास आठ नवंबर से छाएगा। पिछले साल जहां कोरोना के चलते व्रतियों ने घर में जलकुंड बनाकर अस्त और उगते सूर्य को अर्घ्य दिया था, वहीं इस बार प्रशासन द्वारा सशर्त दी गई अनुमति बाद अब करीब 80 स्थानों पर छठ पर्व पर आयोजन होंगे। हालांकि भीड़ को नियंत्रित रखने की जिम्मेदारी त्आयोजन समितियों की होगी। इसके चलते आयोजन स्थल पर मास्क वितरण के साथ सैनिटाइजेशन की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही घाटों पर प्रवेश के लिए कोरोना टीकाकरण के प्रमाणपत्र भी देखा जाएगा।

पूर्वोत्तर सांस्कृतिक संस्थान मध्य प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर जगदीश सिंह का कहना है कि इस वर्ष कोरोना की स्थिति में सुधार को देखते हुए शहर के दो दर्जन से अधिक छठ पूजा आयोजन समितियों द्वारा पूर्वोत्तर सांस्कृतिक संस्थान के नेतृत्व में जिला प्रशासन से सार्वजनिक रूप से प्राकृतिक एवं कृत्रिम घाटों पर छठ मनाने की अनुमति मांगी थी। श्रद्धालुओं के धार्मिक आस्था का संज्ञान लेते हुए प्रशासन द्वारा इस सशर्त सार्वजनिक घाटों पर छठ महापर्व मनाने की अनुमति दी है।

प्रशासन द्वारा छठ पूजा आयोजन समितियों से कहा गया है कि आयोजन समिति यह सुनिश्चित करें कि छठ घाटों पर श्रद्धालुओं की बहुत भीड़ इकट्ठी नहीं हों व कोरोना नियमों का पालन किया जाए। महासचिव केके झा ने बताया कि व्रतधारियों से अपील भी की जा रही है कि संभव हो तो वे स्वयं को सुरक्षा को देखते हुए पिछले वर्ष की तरह घर पर भी अस्थाई कुंड बनाकर सूर्य को अर्घ्य दे सकते हैं। घाटों पर कोरोना टीकाकरण का प्रमाणपत्र देखकर प्रवेश देने की बात आयोजन समितियों से कही गई है।

Whats App

यहां होंगे मुख्य आयोजन

छठ पर्व के सामूहिक आयोजन करीब 80 स्थानों पर होंगे। छोटे और मध्यम स्थर के 7 दर्जन से अधिक आयोजन अलग-अलग कालोनी में होंगे। मुख्य आयोजन स्कीम न 54, 78 , बाणगंगा, सुखलिया, श्याम नगर, तुलसी नगर, पिपलियाहना तालाब, कैट रोड, कालानी नगर , एरोड्रोम रोड, सिलिकॉन सिटी, देवास नाका, निपानिया, राउ, पीथमपुर आदि स्थानों पर होगा।

छठ घाटों की सफाई शुरू, मुस्लिम समाजजनों ने किया सहयोग

छठ घाटों की सफाई के साथ रंगरोपन का सिलसिला भी शुरू हो गया है। स्कीम नंबर 54 में अल्प संख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अमजद खान के नेतृत्व में सफाई में सहयोग कर सांप्रदायिक सौहार्द्र का परिचय दिया। इस मौके पर पूजा पाटीदार, अजयकुमार झा आदि मौजूद थे।

किस दिन होगा क्या

08 नवंबर: पहले दिन सोमवार को नहाय खाय से छठ पूजा की शुरुआत होगी।

09 नवंबर: दूसरे दिन कार्तिक महीने की पंचमी पर मंगलवार को खरना होगा।

10 नंवबर: तीसरे दिन मुख्य दिवस पर बुधवार को छठ पूजा और डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा।

11 नवंबर: अंतिम दिन गुरुवार को उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के साथ छठ पर्व का समापन होगा।

मनी एक्सचेंज मार्केट में हुआ जोरदार धमाका, विस्फोटों से दहला अफगानिस्तान     |     सौंपा ज्ञापन, अकाली दल में इकबाल झूंदा की सिफारिशों को लागू करने की मांग     |     अंबिकापुर में तेज रफ्तार ट्रक ने  स्कूटी सवार युवक को मारी टक्कर, मौके पर ही दर्दनाक मौत     |     झारखंड में हाथी के हमले में डब्ल्यूआईआई का सदस्य घायल     |     डायबिटीज ने मुश्किल कर दिया है जीना? तो इन मसालों से करे कंट्रोल     |     भारत बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा iPhone मेकर…     |     ब्राइडल लुक में चार चांद लगा देंगे ये ट्रेंडी लिपस्टिक कलर्स     |     लालू प्रसाद यादव  का आज होगा सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट     |     दान देने में भी Gautam Adani अव्वल     |     मंत्री चौबे के बंगले के बाहर खड़ीं होकर बोलीं- हक की नौकरी भीख में दे दो     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374