Breaking
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास। एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजू... एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़क... पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया

सिद्धरमैया ने बिटक्वाइन घोटाले को लेकर प्रधानमंत्री से पूछे सवाल

Whats App

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धरमैया ने शुक्रवार को जानना चाहा कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए कर्नाटक के मुख्यमंत्री को यह कहना ‘सही’ है कि वह राज्य में कथित बिटक्वाइन घोटाले के संबंध में आरोपों को नजरअंदाज करें। विधानसभा में विपक्ष के नेता ने अपने ट्वीट में इस मामले की निष्पक्ष जांच एवं दोषियों को दंडित करने की मांग की। उन्होंने सवाल किया, ‘‘कर्नाटक के मुख्यमंत्री को मामले की जांच कराने एवं बेगुनाही साबित करने के लिए कहने के बजाय, प्रधानमंत्री के लिए यह कहना कैसे सही है कि वह इन आरोपों की अनदेखी करें। क्या प्रधानमंत्री एकतरफा तय कर सकते हैं कि वह क्या चाहते हैं।”

सिद्धरमैया ने कहा कि केंद्रीय एवं राज्य की एजेंसियां इस बिटक्वाइन घोटाले की जांच कर रही हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ बोम्मई वर्तमान मुख्यमंत्री हैं तथा वह पिछली बी एस येदियुरप्पा सरकार में गृह मंत्री थे। जांच के इस चरण में मुख्यमंत्री से आरोपों को नजरअंदाज करने की सलाह देकर क्या प्रधानमंत्री उनसे जांच रोक देने को कह रहे हैं?” उन्होंने सवाल किया, ‘‘ हमें नहीं पता है कि बोम्मई इस बिटक्वाइन घोटाले में शामिल हैं या नहीं। हम जो कह रहे हैं, वह यह है कि इसकी उपयुक्त जांच की जाए एवं दोषियों को दंडित किया जाए। नरेंद्र मोदी मुख्यमंत्री से इसकी अनदेखी करने को क्यों कह रहे हैं?”

नई दिल्ली में बृहस्पतिवार को मोदी से भेंट करने के बाद बोम्मई ने कहा था कि प्रधानमंत्री ने उन्हें इस मुद्दे की परवाह नहीं करने और पूरे समर्पण एवं ईमानदारी से काम करने की सलाह दी है। बोम्मई ने कहा था, ‘‘ इस पर (बिटक्वाइन मुद्दे) पर बिल्कुल चर्चा नहीं हुई। वैसे जब मैंने इसे उठाने की कोशिश की, तब उन्होंने (मेादी ने) इस मुद्दे की परवाह नहीं करने और लोगों के लिए पूरे त्याग एवं समर्पण से काम करने की सलाह दी।”

Whats App

पत्रकारों ने मुख्यमंत्री से सवाल किया था कि क्या प्रधानमंत्री के साथ भेंट के दौरान बिटक्वाइन मुद्दे पर चर्चा हुई। पिछले कुछ समय से इस घोटाले में राजनीतिक रूप से कुछ प्रभावी लोगों के शामिल होने की अटकलें सामने आ रही हैं। सीसीसबी ने शहर के हैकर श्रीकृष्णा उर्फ श्रीकी से नौ करोड़ रूपये के बिटक्वाइन जब्त किये हैं। श्रीकृष्णा पर सरकारी पोर्टलों की हैकिंग करने, डार्कनेट के जरिए मादक पदार्थ मंगाने और क्रिप्टोकरेंसी के माध्यम से उसका भुगतान करने का भी आराप है। सत्तारूढ़ भाजपा एवं विपक्षी कांग्रेस ने एक-दूसरे के नेताओं पर इसमें शामिल होने के आरोप लगाये हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया     |     गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास।     |     एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल     |     अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी     |     वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत     |     ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी     |     एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का     |     पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर     |     कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी     |     सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374