New Year
Breaking
गोपालगंज।अन्तर जिला गिरोह के चार सरगना गिरफ्तार मोतिहारी के रहने वाले हैं लुटेरे. मुख्यमंत्री चौहान ने सामाजिक संस्था के प्रतिनिधियों के साथ पौध-रोपण किया जल्द चुनाव के लिए तैयार हैं तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष शिवाजी मार्केट की दुकानें शिफ्ट करना फिर अटका  राष्ट्रपति का अभिभाषण, चुनावी भाषण और सरकार का प्रोपेगेंडा था : शशि थरूर मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार...

छह नंबर स्‍टॉप पर कांग्रेसियों ने फूंका कंगना रनौत का पुतला

Whats App

भोपाल। बालीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा देश की आजादी और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में दिए गए बयानों को लेकर कांग्रेस लगातार हमलावर है। इस मसले पर जहां कांग्रेस कंगना रनौत को दिए गए पद्मश्री सम्‍मान को वापस लेने की मांग कर रही है, वहीं कंगना के खिलाफ विभिन्‍न थानों में एफआइआर दर्ज करवाने की भी तैयारी है। इसी मुद्दे पर कंगना का विरोध करते हुए राजधानी भोपाल में कांग्रेसियों ने शहर के छह नंबर चौराहे पर एकत्रित होकर कंगना रनौत का पुतला फूंका और ‘बापू हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल जिंदा हैं’, ‘कंगना से पद्मश्री वापस लो’ जैसे नारे लगाते हुए गांधी जी पर की गई टिप्पणी पर माफी मांगने की मांग की

कांग्रेस विधायक व पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि अपने बयान पर कंगना रनौत को माफी मांगना चाहिए। महात्मा गांधी का अपमान सहन नहीं करेंगे। कांग्रेस नेता पूर्व पार्षद योगेंद्र सिंह गुड्डू चौहान ने बताया कि कंगना को राजनीति की कोई समझ नहीं। वह भाजपा के इशारों पर अनर्गल बयान व टिप्पणियां करते हुए सुर्खियों में बने रहती हैं।

बता दें कि कुछ दिन पूर्व वर्ष 1947 में देश को मिली आजादी को ‘भीख’ करार देने के बाद कंगन रनौत ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर भी विवादित टिप्पणी की है। उन्होंने इंटरनेट मीडिया पर लिखा है कि या तो आप गांधी के फैन हो सकते हैं या फिर नेताजी के समर्थक। आप दोनों के समर्थक नहीं हो सकते। इसका फैसला आप खुद करें। रनौत ने कहा कि दूसरा गाल देने से भीख मिलती है, आजादी नहीं मिलती है। इतना नहीं कंगना ने यह भी कहा है कि स्वतंत्रता सेनानियों को उन लोगों ने अंग्रेजों के हवाले कर दिया था, जिनमें लड़ने की हिम्मत नहीं थी। वो सत्ता के भूखे थे। ये वही हैं, जिन्होंने हमें सिखाया है कि यदि कोई एक गाल पर थप्पड़ मारे तो एक और थप्पड़ के लिए दूसरा गाल दे दो। ऐसा करने से आपको आजादी मिल जाएगी। ऐसा करने से किसी को आज़ादी नहीं मिलती है। ऐसा करने से सिर्फ भीख मिल सकती है। ऐस में आप अपने नायकों को बुद्धिमानी से चुनें। कंगना रनौत की इस टिप्पणी का विरोध कांग्रेस कर रही हैं। कांग्रेसियों का कहना है कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गांधीगीरी को देश ही नहीं पूरी दुनिया ने माना। उस गांधीगीरी का रनौत मजाक उड़ा रही हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने सामाजिक संस्था के प्रतिनिधियों के साथ पौध-रोपण किया     |     जल्द चुनाव के लिए तैयार हैं तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष     |     शिवाजी मार्केट की दुकानें शिफ्ट करना फिर अटका      |     राष्ट्रपति का अभिभाषण, चुनावी भाषण और सरकार का प्रोपेगेंडा था : शशि थरूर     |     मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव     |     आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी     |     केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक     |     दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म ‘द क्रू’ में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ     |     मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार…     |     गोपालगंज।अन्तर जिला गिरोह के चार सरगना गिरफ्तार मोतिहारी के रहने वाले हैं लुटेरे.     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374