Breaking
आंखों में मिर्ची डालकर ले गए डेढ़ लाख रुपए, पुलिस तलाश में जुटी मुख्यमंत्री चौहान ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर नमन किया 15 साल की किशोरी रेप, मंडीदीप, रायसेन में छिपकर करता रहा मजदूरी 21वीं राज्य स्तरीय बैडमिंटन स्पर्धा के लिए चुने गए जिले के खिलाड़ी इन घरेलू उपायों से मोटापा करें कम महेंद्रगढ़ में सरकारी जमीन पर कब्जा करके बनाया घर जमींदोज, पुलिस फोर्स रही मौजूद समाज के हर वर्ग के लिए काम कर रही सरकार- पंकज चौधरी सर्व आदिवासी समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की सौजन्य मुलाकात प्रसव के लिए रुपये लेने का आरोप एंटी भू-माफिया के तहत तीन के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्रवाई

जीतनराम मांझी की बिहार के CM नीतीश को बड़ी चेतावनी- एक हजार करोड़ दीजिए, नहीं तो समझ जाइएगा

Whats App

इमामगंज (गया)। बिहार के पूर्व सीएम और हम के अध्‍यक्ष जीतन राम मांझी (Ex CM Jitan Ram Manjhi) के एक बयान को लेकर सियासत हो रही है। भाजपा और जदयू नेताओं को संभलकर बोलने की सलाह देने वाले मांझी खुद ऐसा बोल गए जो सत्‍ता पक्ष के लिए चिंता बढ़ाने वाली है। पूर्व सीएम गया में आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते हुए कह गए कि वे अपने राजनीतिक जीवन की अंतिम पारी खेल रहे हैं। इसलिए कोई अपयश लेकर नहीं जाना चाहते। उन्‍होंने सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को कहा है कि क्षेत्र के विकास के लिए एक हजार करोड़ रुपये दीजिए, वरना हम आपकी पार्टी में नहीं हैं, गठबंधन में हैं। चमक गए तो सोच लीजिएगा। पूर्व सीएम सोमवार को इमामगंज के पथरा गांव में डा. परमेश्‍वर प्रसाद और उनकी धर्म पत्‍नी यशोदा देवी की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।

खेल रहा राजनीति की अंतिम पारी 

उन्होंने कहा कि मैं अपनी राजनीति की अंतिम पारी खेल रहा हूं। इसमें एक यश लेकर जाना चाहते हैं कि जो करना था किया, उससे संतुष्टि होगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस क्षेत्र में सिंचाई के लिए डैम, आहर, नहर के लिए एक हजार करोड़ की मांग किए हैं। यदि एक हजार करोड़ रुपये नहीं दिए गए तो वे फिर एक बार सीएम के पास जाएंगे। उनसे पैसे देने को कहेंगे। फिर भी नहीं दिए तो कहेंगे कि हम आपकी पार्टी में नहीं हैं। गठबंधन में हैं। कहीं हम चमक न जाएं इसके चलते तो फिर समझ लीजिएगा। लेकिन इसकी नौबत नहीं आएगी। नीतीश कुमार उनकी बातों को मानेंगे।

Whats App

रेलवे लाइन से अपने क्षेत्र को जोड़कर लूंगा दम 

पूर्व सीएम ने कहा कि पैसे मिलते ही नए वित्तीय वर्ष में लघु सिंचाई मंत्री संतोष कुमार से कहकर उसे पूरा करा देगें। उन्होंने कहा कि मुझे नीतीश कुमार ने मंत्री बनने का  ऑफर दिया था लेकिन मैं मुख्यमंत्री पद पर रहा इस कारण मंत्री पद पर रहना नहीं चाहा। मांझी ने कहा कि गया से इमामगंज, बांकेबाजार, डुमरिया को रेलवे लाइन से जोड़ने के लिए रेलमंत्री से बात कर लिया हूं। जिसका सर्वे का भी कार्य शुरू हो चुका है। फिर दिल्ली जा रहे हैं। इस मुद्दे पर फिर एक बार रेलमंत्री से बात करेंगे। मैं इस क्षेत्र को रेलवे लाइन से जोड़कर ही दम लूंगा। उन्होंने कहा कि इमामगंज प्रखंड के पकरी गुरिया- चुआवार और फुलवरिया नदी पर बहुत जल्दी पुल बनेगा। इस पर काम चल रहा है। इसके अलावा इमामगंज, डुमरिया व बांकेबाजार प्रखंड में एक दर्जन से अधिक पुल पुलिया का निर्माण होगा। सभी पर कार्य चल रहा है।

आंखों में मिर्ची डालकर ले गए डेढ़ लाख रुपए, पुलिस तलाश में जुटी     |     मुख्यमंत्री चौहान ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर नमन किया     |     15 साल की किशोरी रेप, मंडीदीप, रायसेन में छिपकर करता रहा मजदूरी     |     21वीं राज्य स्तरीय बैडमिंटन स्पर्धा के लिए चुने गए जिले के खिलाड़ी     |     इन घरेलू उपायों से मोटापा करें कम     |     महेंद्रगढ़ में सरकारी जमीन पर कब्जा करके बनाया घर जमींदोज, पुलिस फोर्स रही मौजूद     |     समाज के हर वर्ग के लिए काम कर रही सरकार- पंकज चौधरी     |     सर्व आदिवासी समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की सौजन्य मुलाकात     |     प्रसव के लिए रुपये लेने का आरोप     |     एंटी भू-माफिया के तहत तीन के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्रवाई     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374