Breaking
गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध, गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन। गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम। गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप, गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक। गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच। गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन, गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन. गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।

गोपालगंज।अहंकार में चूर- ममतामई मां को दया भी ना आई. बन गई कसाई तीन मासूम बच्चियों को पानी में डूबा कर मार डाला.

सुनामी एक्सप्रेस-
प्रदीप शर्मा गोपालगंज।

गोपालगंज। बिहार के गोपालगंज के कटेया थाना इलाके से जो घटना सामने आई है, वह मां के ममता और अटूट रिश्ते को शर्मसार कर गई है, यहां एक नहीं, तीन मासूम बच्चियों को मौत की गोद में सुला दिया गया है, जिन्हें यह तक मालूम नहीं कि उन्होंने आखिर अपराध कौन सा किया है,अहंकार में चूर होकर, एक माँ ने जिस घटना को अंजाम दिया है, वह हैरान ही नहीं करता, बल्कि मानवता और मां जैसे पवित्र रिश्ते को भी नापाक कर गया,जिसकी कल्पना मात्र से ही रूहे कांप जाती है, वह कारनामा एक निर्दइ मां ने किया है,

घटना गोपालगंज जिले के कटेया थाना इलाके के
कवलरही गांव का है, जहां विदेश में रह रहे पति असलम अंसारी से फोन पर झगड़ने के बाद पत्नी नूरजहां खातून,
रात्रि 10:00 बजे अपने बच्चों को लेकर, यह कह कर घर से निकली कि चलो मामा के घर चलना है, और सभी बच्चों को अपने साथ लेकर वह पैदल ही गांव से बाहर निकल पड़ी, इसी बीच गांव स्थित गौरा पोखरा ने उसने एक-एक कर अपने चार बच्चियों को पोखरे में धकेल खुद खुद कूद गई, लेकिन इसी बीच बच्चियों को रोता देख ग्रामीण वहां पहुंचे और एक बच्ची और उसकी मां को सुरक्षित बाहर निकाला, रात देर होने के कारण, पोखरे में डूबी और बच्चियों को निकाला जाता तब तक काफी देर हो चुकी थी, इस दौरान पोखरे में डूबने से तीनों बच्चियों की मौत हो गई, हालांकि ग्रामीणों के काफी मशक्कत के बाद दो बच्चियों को देर रात ही पोखरे से बाहर निकाल दिया गया, लेकिन तीसरी बच्ची को ग्रामीण मशक्कत के बाद भी नहीं निकाल पाए, जिसे सुबह पोखर से बाहर निकाला गया,

मृत बच्चियों में 9 वर्षीय गुलाब सा खातून, 3 वर्षीय नूर सबा खातून, और 2 वर्षीय तैरवा खातून शामिल है, जबकि ग्रामीणों के द्वारा बचाई गई बच्ची हसीना खातून से जब बात की गई तो, उसने बताया कि मां पापा से फोन पर बात कर रही थी- ‘ इसी दौरान दोनों के बीच लड़ाई हो गई, इसके बाद मां हम लोगों को लेकर मामा के घर ले जाने के बहाने घर से निकल गई, इसके बाद वह हमें नहर के पास ले गई, और धक्का देने लगी, जब हम लोग नहर में नहीं कूदे तो उन्होंने हमें जबरन नहर में धक्का दे दिया, वहीं ग्रामीणों की सूचना पर पहुंचे कटिहार थाना अध्यक्ष सुमन कुमार मिश्रा दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और तीनों शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल भेज दिया, वही वारदात को अंजाम देने के बाद फरार मां को पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर लिया, जिससे पुलिस की पूछताछ जारी है,

Leave A Reply

Your email address will not be published.

गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध,     |     गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन।     |     गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम।     |     गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप,     |     गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक।     |     गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच।     |     गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम     |     गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन,     |     गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन.     |     गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।     |    

विज्ञापन के लिए हमसे संपर्क करें - +919431277374