Breaking
सोनीपत में 900 एकड़ में लगेगी फैक्ट्री, PM मोदी 28 को वर्चुअली करेंगे शिलान्यास जन्माष्टमी पर कान्हा की भक्ति में डूबा रहेगा संसार जन्माष्टमी की तारीख को लेकर न हों भ्रमित मोहाली में अस्पताल का उद्घाटन करेंगे; AAP सरकार में पहला दौरा, कांग्रेस के वक्त सुरक्षा चूक हुई रफ्तार में कार रेलिंग से टकराई, एयरबैग तक खुल गए पर नहीं बचा पाए जिंगदी, सैनिक की मौत हालत गंभीर, बिरयानी खाने गया था, कोतवाली प्रभारी बोले- दोनों शराब के नशे में थे दिल्ली हाईकोर्ट ने रेस्तरां में आम ग्राहकों से सेवा शुल्क लाने पर उठाए सवाल झलाई के जंगल में जानवर चराने गया था चरवाहा, हमले से शरीर में कई जगह लगी चोट परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की घोषणा; शहीद के नाम पर होगा स्कूल का नामकरण लखीमपुर में देश भर से पहुंच रहे किसान, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के इस्तीफे की करेंगे मांग

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बोले- बांग्लादेश में लोकतंत्र की स्थापना में भारत का अहम योगदान

Whats App

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बांग्लादेश में लोकतंत्र की स्थापना में भारत का महत्पवपूर्ण योगदान रहा है। रक्षा मंत्री ने रविवार को कहा कि भारत ने बांग्लादेश की विचारधारा को सफल बनाने में योगदान दिया है। साथ ही कहा कि पिछले 50 वर्षों में बांग्लादेश की विचारधारा में विकास हुआ है। इसके अलावा बांग्लादेश तेजी से विकास के रास्ते से जुड़ा है, जो दुनिया के बाकी हिस्सों के लिए प्रेरणा है।

1971 के युद्ध और भारत-बांग्लादेश संबंध को सफल बनाने वाली भारत की ऐतिहासिक विजय के 50 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में स्वर्णिम विजय पर्व समारोह को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा, ‘भारत ने विचारधारा के संविधान को सफल बनाने में योगदान दिया है और हम वास्तव में धन्य हैं कि पिछले 50 वर्षों में सफल बांग्लादेश ने विकास के रास्ते को तेजी से जोड़ा है, जो दुनिया के बाकी हिस्सों के लिए एक प्रेरणा है।’

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आज हम प्रत्येक व्यक्ति 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के ‘स्वर्णिम विजय वर्ष’ पर आयोजित  ‘विजय पर्व’ का अवलोकन करने के लिए मौजूद इंडिया गेट पर एकत्रित हुए।

Whats App

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 1971 के युद्ध में भारत की ऐतिहासिक जीत और भारत-बांग्लादेश (India-Bangladesh) दोस्ती के 50 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आज राजधानी इंडिया गेट पर स्वर्णिम विजय पर्व का उद्घाटन किया। रक्षा मंत्रालय के अनुसार 1971 के युद्ध के दौरान इस्तेमाल किए गए प्रमुख हथियारों और उपकरणों को प्रमुख लड़ाइयों के अंशों के साथ प्रदर्शित किया जाएग। बता दें कि उद्घाटन के बाद ये कार्यक्रम आम लोगों के लिए खुला रहेगा। समापन समारोह 13 दिसंबर को होगा आयोजित होगा, जिसमें राजनाथ सिंह शामिल होंगे। बांग्लादेश सहित कई गणमान्य व्यक्ति भी इस कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे। बता दें कि पिछले महीने 24 नवंबर को भारत-बांग्लादेश दोस्ती के 50 साल पूरे हुए थे।

सोनीपत में 900 एकड़ में लगेगी फैक्ट्री, PM मोदी 28 को वर्चुअली करेंगे शिलान्यास     |     जन्माष्टमी पर कान्हा की भक्ति में डूबा रहेगा संसार     |     जन्माष्टमी की तारीख को लेकर न हों भ्रमित     |     मोहाली में अस्पताल का उद्घाटन करेंगे; AAP सरकार में पहला दौरा, कांग्रेस के वक्त सुरक्षा चूक हुई     |     रफ्तार में कार रेलिंग से टकराई, एयरबैग तक खुल गए पर नहीं बचा पाए जिंगदी, सैनिक की मौत     |     हालत गंभीर, बिरयानी खाने गया था, कोतवाली प्रभारी बोले- दोनों शराब के नशे में थे     |     दिल्ली हाईकोर्ट ने रेस्तरां में आम ग्राहकों से सेवा शुल्क लाने पर उठाए सवाल     |     झलाई के जंगल में जानवर चराने गया था चरवाहा, हमले से शरीर में कई जगह लगी चोट     |     परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की घोषणा; शहीद के नाम पर होगा स्कूल का नामकरण     |     लखीमपुर में देश भर से पहुंच रहे किसान, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के इस्तीफे की करेंगे मांग     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374