Breaking
देश के छात्र-छात्राएँ पूरी दुनिया में उच्च पदों पर : मंत्री सिंह ये 3 दुख घर की सुंदरता को छीन लेते हैं आरएसजीएल के कारोबार में हुई बढोत्तरी-अग्रवाल 2 साल पहले की थी लव मैरिज; पति की गुहार- पत्नी से बहुत प्यार करता हूं, ढूंढ दीजिए मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी कुशलगढ़ के 2 मन्दिरों में होगा निर्माण कार्य बच्चों की जन्मदिन पार्टी आयोजन करने का व्यापार कैसे शुरू करें | How To Start Kids Birthday Party Pla... 6 लाख 75 हजार की थी सीमेंट, पुलिस देख आरोपी मौके से फरार सीएम योगी ने तीन शिप्ट में  गुणवत्ता के साथ कार्य पर दिया जोर, कहा नवरात्रि मेला में श्रद्धालुओं को ... महिला अधिकारी को जान से मारने की धमकी देने वाला जीएसटी निरीक्षक गिरफ्तार यूपी में सुरक्षित नहीं बेटियां, जौनपुर और बनारस में मिली एक-एक लाश, चंदौली में मिली अर्धनग्‍न लड़की

गोपालगंज।सड़क दुर्घटना में हुई मौत पर, अब परिजनों को मिलेगा पांच लाख का मुआवजा।

Whats App

प्रदीप शर्मा गोपालगंज।

 

 देश के सबसे बड़े अदालत सुप्रीम कोर्ट के दिए गए निर्देश के बाद,बिहार की नीतीश सरकार ने

सुप्रीम कोर्ट के दिए गए निर्देश को आज से लागू कर दिया है, बता दें कि इस संदर्भ में आज पत्रकारों के साथ प्रेस वार्ता करते हुए जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी

Whats App

और परिवहन पदाधिकारी ने बिहार सरकार के जारी गाइडलाइन की जानकारी मीडिया के सामने साझा की है,

 

 डीएम ने बताया कि आज से सड़क हादसे में किसी भी व्यक्ति की मौत होती है तो,उसके परिजनों को सरकार की तरफ से पांच लाख का मुआवजा दिया जाएगा, साथ ही  सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल व्यक्तियों को सरकार की तरफ से 50 हजार का मुआवजा दिया जाएगा,यह बातें आज गोपालगंज समाहरणालय सभा कक्ष भवन में पत्रकारों के साथ वार्ता करते हुए डीएम ने कही,

 

बीमा नहीं होने पर वाहन मालिकों से वसूली जाएगी राशि

-डीएम

इस दौरान डीएम ने यह भी बताया कि नए निर्देश के अनुसार दुर्घटना होने पर अगर वाहनों का इंश्योरेंस नहीं किया गया है तो दुर्घटना की पूरी राशि वाहन मालिकों से वसूली जाएगी. पीड़ितों के द्वारा दावा करने के 10 दिनों के भीतर यह राशि वाहन मालिकों को देना होगा. अगर वाहन मालिक आदेश का पालन नहीं करते हैं तो वाहनों को जब्त करने के बाद नीलाम की जाएगी, और राशि वसूली जाएगी. दुर्घटना होने पर अंतरिम मुआवजा राशि की पूर्ति वाहन के बीमा कंपनी द्वारा बीमा दावा के रूप में देना होगा.

 

मुआवजे के दावे की जांच एसडीएम करेंगे

 

दुर्घटना होने पर मुआवजे का दावा किये जाने के बाद इसकी जांच एसडीएम द्वारा की जाएगी उसके बाद डीएम अंतिम रूप से मुआवजे का फैसला करेंगे. मुआवजे की राशि दुर्घटना सहायता निधि से सीधे परिवहन पदाधिकारी को भेजी जाएगी. गौरतलब है कि अभी बिहार में सड़क दुर्घटना में आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से चार लाख की मुआवजा राशि दी जाती थी।

देश के छात्र-छात्राएँ पूरी दुनिया में उच्च पदों पर : मंत्री सिंह     |     ये 3 दुख घर की सुंदरता को छीन लेते हैं     |     आरएसजीएल के कारोबार में हुई बढोत्तरी-अग्रवाल     |     2 साल पहले की थी लव मैरिज; पति की गुहार- पत्नी से बहुत प्यार करता हूं, ढूंढ दीजिए     |     मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी कुशलगढ़ के 2 मन्दिरों में होगा निर्माण कार्य     |     बच्चों की जन्मदिन पार्टी आयोजन करने का व्यापार कैसे शुरू करें | How To Start Kids Birthday Party Planning Business In Hindi     |     6 लाख 75 हजार की थी सीमेंट, पुलिस देख आरोपी मौके से फरार     |     सीएम योगी ने तीन शिप्ट में  गुणवत्ता के साथ कार्य पर दिया जोर, कहा नवरात्रि मेला में श्रद्धालुओं को न हो दिक्कत     |     महिला अधिकारी को जान से मारने की धमकी देने वाला जीएसटी निरीक्षक गिरफ्तार     |     यूपी में सुरक्षित नहीं बेटियां, जौनपुर और बनारस में मिली एक-एक लाश, चंदौली में मिली अर्धनग्‍न लड़की     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374