Breaking
राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक...तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग! भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन... सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगल... EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका! हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल

#रविवार_विशेष #राजनीतिमेंचालचरित्रऔरचेहरामजबूतहोनाजरूरी

Whats App

बिहार में 243 विधानसभा क्षेत्र हैं. वर्ष 2020 के विधानसभा चुनाव में मात्र 1 विधानसभा क्षेत्र चकाई से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में सुमित कुमार सिंह को सफलता मिली. यह भी रिकॉर्ड है कि पूरे विधानसभा में मात्र एक प्रत्याशी निर्दलीय के रूप में जीत कर आए. अल्पमत वाली एनडीए सरकार को समर्थन करने के एवज में सुमित कुमार सिंह को राज्य का विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री बनाया गया सुमित कुमार सिंह पहली बार वर्ष 2010 में जब विधायक बने थे तो वह झारखंड मुक्ति मोर्चा के टिकट पर चुनाव जीते थे. सुमित कुमार सिंह बिहार की राजनीति के कद्दावर नेता पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह के पुत्र हैं इनके परिवार में इनके दादा श्री कृष्ण सिंह भी बिहार सरकार में मंत्री रह चुके हैं इनके बड़े भाई स्वर्गीय अभय प्रताप सिंह चकाई से तथा अजय प्रताप जमुई से विधायक भी रह चुके है। सुमित कुमार सिंह कहते हैं कि राजनीति में वही लोग आए जिनमें सेवाभाव हो जिन में अहंकार नहीं हो जो 24 घंटा जनता को दे सकते हैं वही लंबा रेस का घोड़ा हो सकते हैं जो लोग राजनीति में पद पावर और पैसा के लिए आते हैं वह भले एकाध बार सफल हो जाए फिर दूसरी बार जनता उन्हें नकार देती है। सुमित कुमार सिंह ने कहा कि उनका पहला कमिटमेंट उनके विधानसभा चकाई के लोगों के साथ हैं जिन लोगों ने उन्हें निर्दलीय विधायक के रुप में विधानसभा भेजने का काम किया जब उन्हें नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए सरकार का समर्थन करना था तो उन्होंने चौपाल लगाकर अपने क्षेत्र की जनता से सुझाव मांगा था लोगों ने कहा कि बिहार में एक विकास परक सरकार का हिस्सा बनना चकाई के हित में होगा उन्होंने कहा कि वह पहले जदयू में थे कुछ परिस्थितियां रही होंगी कि पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया पर कुछ मुद्दे पर वे कभी भी नीतीश कुमार से अलग नहीं हो सके वह मुद्दा था विकास का उन्होंने कहा कि राजनीति में ना कोई स्थाई मित्र होता है ना कोई स्थाई दुश्मन पर विचारधारा सबसे बड़ी होती है आप को चुनना होता है कि अब किधर है विकास के साथ हैं या सिर्फ हो हल्ला करने वाले लोगों के साथ। पत्नी सपना सिंह के विधान परिषद चुनाव लड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में हर कोई स्वतंत्र है। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में पंचायत प्रतिनिधियों को वोट देना है और जो नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधि हैं वह दबाव बनाए हुए हैं जो जनता का निर्णय होगा जो पंचायत प्रतिनिधियों का निर्णय होगा उसे स्वीकार करना उनकी मजबूरी होगी। सुमित कुमार सिंह ने कहा कि वह चकाई के विधायक हैं बिहार सरकार में मंत्री हैं सारण के प्रभारी मंत्री हैं और पूरे बिहार की युवा उनसे मिलने आते हैं वे कभी भी किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं करते हैं। सुमित कुमार सिंह ने कहा कि उनके परिवार की राजनीतिक पृष्ठभूमि उन्होंने बचपन से देखा है कि राजनीति में कभी आप और सफल होते हैं कभी आप फर्श पर होते हैं पर अगर आप लोकप्रिय हैं तो सदैव लोगों के दिलों में होते हैं लोगों को आप से ढेर सारी आशाएं होती हैं और जब मौका मिलता है तब अगर आप बेहतर काम करते हैं तो इसका दूरगामी फायदा भी होता है उन्होंने कहा कि बिहार में एक लोकप्रिय और विकास पर सरकार है सड़क बिजली पानी स्वास्थ्य चिकित्सा कानून व्यवस्था सभी क्षेत्रों में बेहतर स्थिति है कहीं कोई अगर खामी है तो उसे भी सुधारने का प्रयास किया जा रहा है शराबबंदी जैसे कानूनों का दूरगामी परिणाम होना है समाज में समरसता बढ़ी है ऐसी चीजों पर पूरी तरह अंकुश लगाने के लिए समाज के सभी तबकों को मुख्यमंत्री जी के कदम का समर्थन करना चाहिए सहयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह सौभाग्य है कि केंद्र और बिहार में एनडीए की सरकार है डबल इंजन कि यह सरकार तेजी से विकास कार्यों को आगे की ओर ले जा रही है जिन लोगों को विकास नहीं दिख रहा है जनता का समर्थन नहीं दिख रहा है उन्हें कोई कुछ नहीं कह सकता।बिहार में 243 विधानसभा क्षेत्र हैं. वर्ष 2020 के विधानसभा चुनाव में मात्र 1 विधानसभा क्षेत्र चकाई से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में सुमित कुमार सिंह को सफलता मिली. यह भी रिकॉर्ड है कि पूरे विधानसभा में मात्र एक प्रत्याशी निर्दलीय के रूप में जीत कर आए. अल्पमत वाली एनडीए सरकार को समर्थन करने के एवज में सुमित कुमार सिंह को राज्य का विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री बनाया गया सुमित कुमार सिंह पहली बार वर्ष 2010 में जब विधायक बने थे तो वह झारखंड मुक्ति मोर्चा के टिकट पर चुनाव जीते थे. सुमित कुमार सिंह बिहार की राजनीति के कद्दावर नेता पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह के पुत्र हैं इनके परिवार में इनके दादा श्री कृष्ण सिंह भी बिहार सरकार में मंत्री रह चुके हैं इनके बड़े भाई स्वर्गीय अभय प्रताप सिंह चकाई से तथा अजय प्रताप जमुई से विधायक भी रह चुके है। सुमित कुमार सिंह कहते हैं कि राजनीति में वही लोग आए जिनमें सेवाभाव हो जिन में अहंकार नहीं हो जो 24 घंटा जनता को दे सकते हैं वही लंबा रेस का घोड़ा हो सकते हैं जो लोग राजनीति में पद पावर और पैसा के लिए आते हैं वह भले एकाध बार सफल हो जाए फिर दूसरी बार जनता उन्हें नकार देती है। सुमित कुमार सिंह ने कहा कि उनका पहला कमिटमेंट उनके विधानसभा चकाई के लोगों के साथ हैं जिन लोगों ने उन्हें निर्दलीय विधायक के रुप में विधानसभा भेजने का काम किया जब उन्हें नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए सरकार का समर्थन करना था तो उन्होंने चौपाल लगाकर अपने क्षेत्र की जनता से सुझाव मांगा था लोगों ने कहा कि बिहार में एक विकास परक सरकार का हिस्सा बनना चकाई के हित में होगा उन्होंने कहा कि वह पहले जदयू में थे कुछ परिस्थितियां रही होंगी कि पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया पर कुछ मुद्दे पर वे कभी भी नीतीश कुमार से अलग नहीं हो सके वह मुद्दा था विकास का उन्होंने कहा कि राजनीति में ना कोई स्थाई मित्र होता है ना कोई स्थाई दुश्मन पर विचारधारा सबसे बड़ी होती है आप को चुनना होता है कि अब किधर है विकास के साथ हैं या सिर्फ हो हल्ला करने वाले लोगों के साथ। पत्नी सपना सिंह के विधान परिषद चुनाव लड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में हर कोई स्वतंत्र है। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में पंचायत प्रतिनिधियों को वोट देना है और जो नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधि हैं वह दबाव बनाए हुए हैं जो जनता का निर्णय होगा जो पंचायत प्रतिनिधियों का निर्णय होगा उसे स्वीकार करना उनकी मजबूरी होगी। सुमित कुमार सिंह ने कहा कि वह चकाई के विधायक हैं बिहार सरकार में मंत्री हैं सारण के प्रभारी मंत्री हैं और पूरे बिहार की युवा उनसे मिलने आते हैं वे कभी भी किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं करते हैं। सुमित कुमार सिंह ने कहा कि उनके परिवार की राजनीतिक पृष्ठभूमि उन्होंने बचपन से देखा है कि राजनीति में कभी आप और सफल होते हैं कभी आप फर्श पर होते हैं पर अगर आप लोकप्रिय हैं तो सदैव लोगों के दिलों में होते हैं लोगों को आप से ढेर सारी आशाएं होती हैं और जब मौका मिलता है तब अगर आप बेहतर काम करते हैं तो इसका दूरगामी फायदा भी होता है उन्होंने कहा कि बिहार में एक लोकप्रिय और विकास पर सरकार है सड़क बिजली पानी स्वास्थ्य चिकित्सा कानून व्यवस्था सभी क्षेत्रों में बेहतर स्थिति है कहीं कोई अगर खामी है तो उसे भी सुधारने का प्रयास किया जा रहा है शराबबंदी जैसे कानूनों का दूरगामी परिणाम होना है समाज में समरसता बढ़ी है ऐसी चीजों पर पूरी तरह अंकुश लगाने के लिए समाज के सभी तबकों को मुख्यमंत्री जी के कदम का समर्थन करना चाहिए सहयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह सौभाग्य है कि केंद्र और बिहार में एनडीए की सरकार है डबल इंजन कि यह सरकार तेजी से विकास कार्यों को आगे की ओर ले जा रही है जिन लोगों को विकास नहीं दिख रहा है जनता का समर्थन नहीं दिख रहा है उन्हें कोई कुछ नहीं कह सकता।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट     |     मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक…तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग!     |     भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी     |     भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का फूंका पुतला     |     सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगलवार को होगा तय     |     EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका!     |     हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत     |     MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी     |     इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात     |     रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374