New Year
Breaking
गोपालगंज।अन्तर जिला गिरोह के चार सरगना गिरफ्तार मोतिहारी के रहने वाले हैं लुटेरे. मुख्यमंत्री चौहान ने सामाजिक संस्था के प्रतिनिधियों के साथ पौध-रोपण किया जल्द चुनाव के लिए तैयार हैं तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष शिवाजी मार्केट की दुकानें शिफ्ट करना फिर अटका  राष्ट्रपति का अभिभाषण, चुनावी भाषण और सरकार का प्रोपेगेंडा था : शशि थरूर मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार...

नई दिल्ली। एक से अधिक सिम रखने वाले हो जाएं सावधान दूरसंचार विभाग उठाने जा रहा है यह कदम।

Whats App

नई दिल्ली- इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है अगर आप ज्यादा सिम कार्ड का उपयोग कर रहे है तो यह खबर आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है. दरअसल, दूरसंचार विभाग ने 9 से ज्यादा सिम कार्ड  रखने वाले ग्राहकों के सिम को फिर से सत्यापित करने और सत्यापित न होने की स्थिति में सिम बंद करने का आदेश दिया है. जम्मू-कश्मीर और असम समेत पूर्वोत्तर के लिए यह संख्या 6 सिम कार्ड की है.

दूरसंचार विभाग की तरफ से जारी आदेश के अनुसार ग्राहकों के पास अनुमति से अधिक SIM कार्ड पाए जाने की स्थिति में उन्हें अपनी मर्जी का सिम चालू रखने और शेष को बंद करने का विकल्प दिया जाएगा.

विभाग ने कहा, विभाग द्वारा किये गए विश्लेषण के दौरान अगर किसी ग्राहक के पास सभी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों के सिम कार्ड निर्धारित संख्या से अधिक पाए जाते है तो सभी SIM का फिर से सत्यापन किया जाएगा.

Whats App

इसलिए उठाया गया यह कदम

दूरसंचार विभाग ने यह कदम दरअसल वित्तीय अपराधों, आपत्तिजनक कॉल, स्वचालित कॉल और धोखाधड़ी गतिविधियों की घटनाओं की जांच करने को लेकर उठाया है. विभाग ने दूरसंचार कंपनियों से उन सभी मोबाइल नंबर को डेटाबेस से हटाने के लिए कहा है जो नियम के अनुसार उपयोग में नहीं हैं.

मोबाइल सिम कार्ड से जुड़े नियम बदले

आपको बता दें कि सरकार ने इस साल सितंबर में सिम कार्ड केवाईसी नियमों में बदलाव किया था. नए कनेक्शन लेने या प्रीपेड नंबर को पोस्टपेड में या पोस्टपेड को प्रीपेड में बदलने के लिए फिजिकल फॉर्म भरने की जरूरत नहीं होगी. टेलीकॉम कंपनियां ये फॉर्म भरने का काम डिजिटल माध्यम से कर सकेंगी.

अगर आपको कोई नया मोबाइल नंबर या टेलीफोन कनेक्शन लेना है तो आपका KYC पूरी तरह से डिजिटल होगी. यानी KYC के लिए आपको किसी तरह का कोई कागज जमा नहीं करना होगा. पोस्टपेड सिम को प्रीपेड कराने जैसे सभी कामों के लिए अब कोई फॉर्म नहीं भरना होगा. इसके लिए डिजिटल KYC मान्य होगी.

नए नियमों के अनुसार आप सिम देने वाली कंपनी के ऐप के जरिए सेल्फ KYC कर सकेंगे. इसके लिए आपको मात्र 1 रुपए देना होगा. अभी के नियमों के अनुसार अगर कोई ग्राहक अपने प्रीपेड नंबर को पोस्टपेड में या पोस्टपेड को प्रीपेड में चेंज कराता है तो उसे हर बार KYC प्रोसेस पूरी करनी होती है. लेकिन अब सिर्फ 1 बार ही KYC करानी होगी.

KYC के लिए ग्राहकों से कुछ डॉक्यूमेंट मांगे जाते हैं. वैसे तो ये काम जहां से सिम ले रहे हैं वहां जाकर करना होता है, लेकिन अगर आप खुद ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर डॉक्यूमेंट अपलोड करके अपनी KYC कर लेते हैं तो इसे सेल्फ KYC कहते हैं. ये वेबसाइट या ऐप्लीकेशन के जरिए की जा सकती है.

इसके लिए सबसे पहले सिम प्रोवाइडर की ऐप्लीकेशन फोन में डाउनलोड करनी होगी. इसके बाद अपने फोन से रजिस्टर करना होगा और एक अल्टर्नेट नंबर भी देना होगा, जो आपके जानकार का भी हो सकता है. इसके बाद आपको वन टाइम पासवर्ड (OTP) भेजा जाएगा. इसके बाद आपको लॉगिन करना होगा और इसमें सेल्फ KYC का ऑप्शन चुनना होगा, जिसमें मांगी गई जानकारी भरकर प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं.

मुख्यमंत्री चौहान ने सामाजिक संस्था के प्रतिनिधियों के साथ पौध-रोपण किया     |     जल्द चुनाव के लिए तैयार हैं तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष     |     शिवाजी मार्केट की दुकानें शिफ्ट करना फिर अटका      |     राष्ट्रपति का अभिभाषण, चुनावी भाषण और सरकार का प्रोपेगेंडा था : शशि थरूर     |     मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव     |     आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी     |     केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक     |     दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म ‘द क्रू’ में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ     |     मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार…     |     गोपालगंज।अन्तर जिला गिरोह के चार सरगना गिरफ्तार मोतिहारी के रहने वाले हैं लुटेरे.     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374