Breaking
कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार यूएनजीए अध्यक्ष ने फिलिस्तीनियों के लिए भरोसा जताने के महत्व पर जोर दिया

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने भारत के 100 करोड़ टीकाकरण का जश्न मनाने के लिए लांच किया ये खास गाना

Whats App

नई दिल्ली। भारत ने कोरोना टीकाकरण में 100 करोड़ का आंकड़ा छू लिया है। पीएम मोदी समेत कई शीर्ष नेताओं ने इस खास अवसर पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने गुरुवार को 100 करोड़ कोरोना टीकाकरण का आंकड़ा छूने पर जश्न मनाने के लिए एक गीत और आडियो-विजुअल फिल्म लांच की है।

इस खास अवसर पर बोलते हुए मंडाविया ने कहा, ‘भारत ने ऐतिहासिक 100 करोड़ टीकाकरण का आंकड़ा पार कर इतिहास रच दिया है। 100 करोड़ टीकाकरण देशवासियों के आत्मविश्वास की भावना है। 100 करोड़ टीकाकरण आत्मनिर्भर भारत की दिवाली है।’

स्वास्थ्य मंत्री के कार्यक्रम का आयोजन दिल्ली के लाल किले में किया गया था। इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार भी मौजूद थे। मंडाविया ने देश भर में टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देने के लिए प्रसिद्ध पद्म श्री पुरस्कार विजेता गायक कैलाश खेर द्वारा गाया गया गीत ‘टीके से बचा है देश’ गाने को ट्वीट किया है। इस गाने को ट्वीटर पर लोगों द्वारा खूब पंसद किया जा रहा है।

Whats App

एक ऐतिहासिक उपलब्धि में भारत का कोरोना टीकाकरण कवरेज गुरुवार को 100 करोड़ डोज को पार कर गया। कोविन पोर्टल (CoWIN Portal) अनुसार आज सुबह 9:47 बजे कुल 100 करोड़ वैक्सीन खुराक दी गई, जो कि इसके बाद से यह आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है।

बता दें कि भारत का कोरोना टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 को शुरू किया गया था। प्रारंभ में टीकाकरण केवल स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों (एचसीडब्ल्यू) के लिए खोला गया था। 2 फरवरी से अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं को टीकाकरण के लिए पात्र बनाया गया। इनमें राज्य और केंद्रीय पुलिस के जवान, सशस्त्र बल के जवान, होमगार्ड, नागरिक सुरक्षा और आपदा प्रबंधन स्वयंसेवक, नगर निगम के कर्मचारी, जेल कर्मचारी, पीआरआई कर्मचारी और नियंत्रण और निगरानी में शामिल राजस्व कर्मचारी, रेलवे सुरक्षा बल और चुनाव कर्मचारी शामिल थे।

टीकाकरण अभियान का विस्तार 1 मार्च से किया गया था, जिसमें 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों और 45 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को शामिल किया गया था। आगे चलकर इसे 1 अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए विस्तारित किया गया था। इसके बाद 1 मई से 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्तियों को कोरोना टीकाकरण के लिए पात्र बनाया गया था।

कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |     एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार     |     यूएनजीए अध्यक्ष ने फिलिस्तीनियों के लिए भरोसा जताने के महत्व पर जोर दिया     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374