Breaking
इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता

मधुबनी में RTI एक्टिविस्ट की हत्या पर बोले तेजस्वी- बिहार पुलिस पूरी तरह से नीतीश की हो गई

Whats App

मधुबनीः बिहार के मधुबनी जिले के बेनीपट्टी इलाके में आरटीआई एक्टिविस्ट की कथित तौर पर अपहरण के बाद हत्या के मामले पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार पुलिस पूरी तरह से नीतीश कुमार की पुलिस हो गई है। अगर जांच होने लगे तो नीतीश कुमार की पूरी कैबिनेट मंत्री से लेकर विधायक तक सब लोग जेल में मिलेंगे।

तेजस्वी यादव ने कहा कि पहले लोग गोली मारकर भाग जाते थे। आजकल लोग गोली मारकर दोबारा देखने जाते हैं कि आदमी जिंदा है कि मरा है। नीतीश कुमार के सुशासन के राज में कितना भारी अंतर आ गया है। वहीं पत्रकार एवं पूर्व जिला परिषद सदस्य की हत्या पर राजद नेता ने कहा कि नीतीश कुमार के मंत्री लेशी सिंह-उनके भतीजे आरोपी हैं। एसएचओ को निलंबित कर दिया गया है, लेकिन जब मृतक के रिश्तेदार लेशी सिंह और उसके भतीजे पर स्पष्ट रूप से आरोप लगा रहे हैं तो राज्य सरकार और उसके मुखिया चुप क्यों हैं? तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार तय करें समय सीमा- अपने मंत्री (लेशी सिंह) को हटाने जा रहे हैं तो कार्रवाई कब होगी? नीतीश कुमार के उठने से पहले कितनी महिलाएं विधवा हो जाती हैं?..उन्हें स्पष्टीकरण देना चाहिए और मंत्री को बर्खास्त करना चाहिए। देखते हैं क्या होता है।

बता दें कि मधुबनी जिले के बेनीपट्टी थाना क्षेत्र के उरैन और पाली गांवों के बीच शुक्रवार की रात पुलिस ने अपहृत आरटीआई कार्यकर्ता बुद्धि नाथ झा उर्फ अविनाश झा का जला हुआ शव बरामद किया। आरटीआई एक्टिविस्ट के साथ अविनाश एक पत्रकार भी थे। उनका 9 नवंबर की रात लोहिया चौक पर उनके घर के पास से ही 4 लोगों ने अपहरण कर लिया था।

इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत     |     देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374