Breaking
गोपालगंज।ट्रिपल मर्डर केस मामले में कुख्यात सतीश पाण्डेय सहित तीन को कोर्ट ने किया बरी। 3 साल पहले 8 माह में कुष्ठ के 568 नए मरीज खोजे, इस बार अप्रैल माह से अब तक सिर्फ 256 केस ही मिल पाए कई रोमांचक कारनामे कर चुका; अब 23 घंटे में एवरेस्ट बेस कैंप चढ़ा 27 केंद्रों पर दो सत्रों में होगी परीक्षा, नकल रोकने के लिए होंगे समुचित प्रबंध, अधिकारियों ने बनाई ... कर्मचारियों ने किराए के भवन में लिया शरण, लोग बोले- कई बार की गई शिकायत CM ने दिल्ली की 11 व्यापारी एसोसिएशन से मुलाकात; वेयर हाउसिंग पॉलिसी का दिया प्रपोजल खेत में काम कर रही महिला को गोली लगी, एक किमी दूर चल रही थी एसएएफ की फायरिंग पानी, बिजली-स्वास्थ्य के मुद्दे पर अफसरों को घेरेंगे सदस्य; चुनाव के बाद दूसरी बैठक बहन ने ज्वेलर के खिलाफ दायर की थी याचिका; मंजूर हुई झीरमघाटी हमले में खोया इकलौता बेटा,अनुकंपा नियुक्ति पाकर भूल गई बहू,मदद के लिए आगे आया आयोग

पूर्णिया में पूर्व जिप सदस्य हत्याकांड में राजनीति गर्मायी, पप्पू यादव ने की मंत्री से इस्तीफे की मांग

Whats App

 पूर्णिया: जन अधिकार पार्टी के संरक्षक सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि पूर्व पार्षद हत्याकांड में जिस मंत्री का नाम आया है, उन्हें बेबाकी से सामना आना चाहिए। साथ ही इस हत्याकांड की जांच पूरी होने तक अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। पप्पू यादव रविवार को पूर्व पार्षद की हत्या को लेकर उनकी पत्नी सह जिला परिषद सदस्य अनुलिका सिंह व उनके अन्य स्वजनों को सांत्वना देने सरसी स्थित उनके घर पहुंचे थे

पप्पू यादव ने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि जिस सरसी को शैक्षणिक, आर्थिक व सामाजिक रूप से नंबर वन होना चाहिए वहां के लोग हर पल दहशत व मौत के साए में जी रहे हैं। लोकतंत्र में वाजिब ढंग से आवाज उठाने वालों की हत्या हो जाती है। चुनाव पुलिस औपचारिकता भर निभाती है। कोई पीड़ित थाने में जान का खतरा को लेकर आवेदन देता है तो सुरक्षा उसकी बात अनसुनी हो जाती है। उन्होंने कहा कि इस मामले में सरसी थानाध्यक्ष को केवल निलंबित ही नहीं किया जाना चाहिए बल्कि उनके खिलाफ 302 का मुकदमा चलना चाहिए।

थाना अध्यक्ष के मोबाइल का काल की एसआइटी से जांच होनी चाहिए। अपराधियों व नेता के साथ पुलिस अधिकारी के फोन का डिटेल निकालना चाहिए। जिन अपराधियों का नाम इसमें आया है क्या उनके रिश्तेदार थाना अध्यक्ष के संपर्क में था में थे, इसकी जांच भी होनी चाहिए। हत्यारोपितों के घर कुर्की जब्ती होनी चाहिए और तीन महीने के अंदर स्पीडी ट्रायल के जरिए फांसी की सजा होनी चाहिए। जिला परिषद अनुलिका सिंह उनकी बेटी की तरह है। उनकी सुरक्षा की जिम्मेवारी सरकार की होगी। अगर किसी विधायक या मंत्री का नाम आया है तो उन्हें खुद इसकी जांच सीबीआइ से कराने की मांग उठानी चाहिए।

Whats App

हर परिस्थिति में घटना की जांच सीबीआइ से होनी चाहिए। अगर सरकार पर अंगुली उठ रही है तो या तो मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए या फिर संबंधित मंत्री का इस्तीफा लेना चाहिए। वे पीडि़त परिवार के साथ हैं। हाईकोर्ट एवं सुप्रीम कोर्ट तक न्याय दिलाने जाएंगे। इस मौके पर युवा परिषद के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश प्रवक्ता राजेश यादव, दुर्गा यादव, वकील दास, विक्टर यादव, सुडडू यादव, गोपाल सिंह, सुमित यादव, करन कुमार, सयूब आलम, विशाल कुमार, आशीष कुमार, शंकर कुमार व विनय कुमार मौजूद थे।

3 साल पहले 8 माह में कुष्ठ के 568 नए मरीज खोजे, इस बार अप्रैल माह से अब तक सिर्फ 256 केस ही मिल पाए     |     कई रोमांचक कारनामे कर चुका; अब 23 घंटे में एवरेस्ट बेस कैंप चढ़ा     |     27 केंद्रों पर दो सत्रों में होगी परीक्षा, नकल रोकने के लिए होंगे समुचित प्रबंध, अधिकारियों ने बनाई योजना     |     कर्मचारियों ने किराए के भवन में लिया शरण, लोग बोले- कई बार की गई शिकायत     |     CM ने दिल्ली की 11 व्यापारी एसोसिएशन से मुलाकात; वेयर हाउसिंग पॉलिसी का दिया प्रपोजल     |     खेत में काम कर रही महिला को गोली लगी, एक किमी दूर चल रही थी एसएएफ की फायरिंग     |     पानी, बिजली-स्वास्थ्य के मुद्दे पर अफसरों को घेरेंगे सदस्य; चुनाव के बाद दूसरी बैठक     |     बहन ने ज्वेलर के खिलाफ दायर की थी याचिका; मंजूर हुई     |     झीरमघाटी हमले में खोया इकलौता बेटा,अनुकंपा नियुक्ति पाकर भूल गई बहू,मदद के लिए आगे आया आयोग     |     गोपालगंज।ट्रिपल मर्डर केस मामले में कुख्यात सतीश पाण्डेय सहित तीन को कोर्ट ने किया बरी।     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374