Breaking
महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री  भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित   निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022 बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान

कंगना रनौत ने उड़ाया महात्‍मा गांधी के ‘मंत्र’ का मज़ाक तो पड़पोते ने कहा- वह लाइमलाइट के लिए उल जुलूल बातें करती हैं

Whats App

नई दिल्‍ली: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत अकसर अपनी बयान बाजी के चलते सुर्खियों में छाई रहती हैं। हाल ही में कंगना ने यह कर सनसनी मचा दी थी की हमें असली आज़ादी 2014 में मिली है, जिस पर कई राजनेताओं ने कंगना पर सवाल उठाए और उनके इस बयान पर गिरफ्तारी की भी मांग की।

कंगना रनौत सिर्फ लाइम लाइट में रहना पसंद करती हैं
वहीं अब इन सब के बीच राष्‍ट्रपति महात्‍मा गांधी को लेकर दिए विवादित बयान पर बवाल मचा है। अब महात्‍मा गांधी के पड़पोते तुषार गांधी ने भी कंगना रनौत पर हमला बोला है। उन्‍होंने कहा है कि कंगना रनौत सिर्फ लाइम लाइट में रहना पसंद करती हैं, इसलिए वह उल-जुलूल बातें करती रहती हैं। उनका कहना है कि मुझे नहीं लगता है कि इस पर हमें कुछ कमेंट करना चाहिए। हम उसे (कंगना) बड़ा नहीं बनाना चाहते..नो कमेंट।

कंगना ने महात्मा गांधी के अहिंसा के मंत्र का उड़ाया था मज़ाक 
बता दें कि अभिनेत्री कंगना रनौत ने मंगलवार को दावा किया था कि सुभाष चंद्र बोस और भगत सिंह को महात्मा गांधी से कोई समर्थन नहीं मिला। उन्होंने महात्मा गांधी के अहिंसा के मंत्र का मज़ाक उड़ाते हुए कहा था कि दूसरा गाल आगे करने से भीख मिलती है न कि आजादी।

Whats App

तो वहीं इससे पहले कंगना रनौत ने पिछले हफ्ते कहा था कि 1947 में भारत को आजादी नहीं, बल्कि भीख मिली थी, असली स्वतंत्रता 2014 में मिली जब नरेंद्र मोदी की सरकार सत्ता में आई. रनौत ने इंस्ट्राग्राम पर एक के बाद एक कई पोस्ट कर महात्मा गांधी को निशाना बनाया और कहा कि अपने नायकों को समझदारी से चुनो।

दरअसल, कंगना ने एक अखबार की पुरानी खबर साझा की थी जिसकी हेडलाइन थी, ‘गांधी, अन्य नेताजी को सौंपने के लिए सहमत हुए थे।  कंगना रनौत ने इस खबर की कटिंग के साथ लिखा था कि या तो आप गांधी के प्रशंसक हैं या नेताजी के समर्थक हैं, आप दोनों एक साथ नहीं हो सकते हैं… चुनो और फैसला करो।’

दूसरी गाल आगे करने से किसी को आज़ादी नहीं मिलती, भीख मिलती है
इसके बाद कंगना ने महात्मा गांधी पर निशाना साधते हुए दावा किया कि इस बात के सबूत हैं कि वह चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी दी जाए, कंगना ने कहा था कि ये वही लोग हैं जिन्होंने हमें सिखाया, अगर कोई आपको थप्पड़ मारे तो एक और थप्पड़ के लिए दूसरा गाल आगे कर दो और इस तरह आपको आजादी मिलेगी, इस तरह से किसी को आज़ादी नहीं मिलती, ऐसे भीख मिल सकती है, अपने नायकों को बुद्धिमानी से चुनें।

महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे     |     टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका     |     गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री      |     भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे     |     सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात     |     श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित       |     निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022     |     बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन     |     जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा     |     अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374