Breaking
हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता मशहूर निर्देशक तरुण मजूमदार का हुआ निधन नगीना पंसारी का परिवार जा रहा था माता वैष्णों देवी , टांडा उड़मुड़ में कार दुर्घटनाग्रस्त

ग्वालियर रेलवे विद्युतीकरण कार्य का PM मोदी ने किया उद्घाटन, सिंधिया ने जताया आभार

Whats App

शिवपुरी: भोपाल के दौरे पर आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को गुना-ग्वालियर रेलवे विद्युतीकरण कार्य का भी उद्घाटन किया है। इस महत्वकांक्षी परियोजना की शुरुआत गुना-शिवपुरी के पूर्व सांसद और वर्तमान में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रयासों से हुई थी और पीएम नरेंद्र मोदी के द्वारा गुना-ग्वालियर रेलवे विद्युतीकरण कार्य का उद्घाटन किए जाने पर केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पीएम मोदी का आभार जताया है।

सिंधिया ने प्रधानमंत्री का आत्मीय आभार जताते हुए कहा है कि ग्वालियर चंबल संभाग की जनता की ओर से पीएम मोदी का धन्यवाद। इस महत्वकांक्षी परियोजना के पूरा होने से गुना से शिवपुरी और फिर शिवपुरी से ग्वालियर के बीच ट्रेन की गति बढ़ेगी जिसका इस संसदीय क्षेत्र की जनता को लाभ होगा। 151 करोड़ रुपए का बजट हुआ था स्वीकृत। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रयासों से वर्ष 2016 में उनके यहां से लोकसभा सांसद रहने के दौरान केन्द्र सरकार द्वारा 151 करोड़ रुपए का बजट गुना ग्वालियर रेलवे विद्युतीकरण कार्य के लिए स्वीकृत किया गया था। गुना-ग्वालियर रेलवे विद्युतीकरण 227 किलोमीटर के लिए रेल मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा वर्ष 2016 में 151 करोड़ पर बजट की स्वीकृति प्रदान की गई थी।

रेलवे और जनता को कई फायदे-
सिंधिया के प्रयासों से गुना-ग्वालियर रेलवे विद्युतीकरण कार्य का शुभारंभ होने के बाद अब इस ट्रैक पर डीजल इंजन बंद होने से डीजल की खपत बंद हो जाएगी। इलेक्ट्रिक इंजन की तुलना में डीजल की ज्यादा खपत होती है। इसके अलावा ग्वालियर और गुना में डीजल लोको पर इलेक्ट्रिक की जगह डीजल इंजन बदलने पड़ते थे जिसमें 40 से 45 मिनट का वक्त लगता था। एक ही इंजन लगेगा और रनिंग में सीधे तौर पर डेढ़ घंटे का अंतर आएगा। साथ ही डीजल इंजन की तुलना में इलेक्ट्रिक इंजन की गति ज्यादा है। इसके अलावा अब स्पीड बढ़ जाएगी। मंजिल तक पहुंचने में यात्रियों का पहले से कम समय लगेगा और सफर छोटा होगा।

हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत     |     देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता     |     मशहूर निर्देशक तरुण मजूमदार का हुआ निधन     |     नगीना पंसारी का परिवार जा रहा था माता वैष्णों देवी , टांडा उड़मुड़ में कार दुर्घटनाग्रस्त     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374