Breaking
महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री  भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित   निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022 बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान

भाभी की तस्‍वीर से बनाई फेक आइडी, आने लगे गंदे मैसेज तो देवर ने कही ऐसी बात

Whats App

सिरदला (नवादा)। रिश्‍ते में देवर लगने वाले युवक ने शादीशुदा औरत की तस्‍वीर के साथ फेसबुक पर फेक आइडी बना डाली। फिर क्‍या था, सुंदर महिला का फोटो देख लोग लट्टू हो गए। महिला की ओरिजनल आइडी पर लोगों ने मैसेज करना शुरू कर दी।सूत्रों की मानें तो आरोपित ने महिला की तस्‍वीर के साथ उसका मोबाइल नंबर देकर अश्‍लील बातें भी लिखी थीं। फेसबुक यूजर्स गंदी बातें करने लगे। इनबॉक्‍स में भद्दी-भद्दी बातें कर रहे लोगों को ब्‍लॉक करते-करते महिला परेशान हो गई। आजिज होकर उसने ये बात पति को बताई। तब उसके पति ने थाने में जाकर शिकायत की तो जानकारी पाकर पूरा परिवार स्‍तब्‍ध रह गया। घटना नवादा जिले के सिरदला थाना क्षेत्र की है।

दरअसल, 20 दिन से परेशान महिला ने पहले ये बात घरवालों से छुपाई। लेकिन, राज तब खोलना पड़ा, जब उसके मोबाइल पर भी मैसेज आने लगे। मोबाइल पर मैसेज आने का कारण यह रहा कि जिस युवक ने महिला की तस्‍वीर के साथ उसका फेक आइडी बनाया था, उसने एक फोटो में उसका (औरत का) सेलफोन नंबर भी लिख दिया था। मोबाइल पर जब मैसेज आने लगा तो महिला घबरा गई और उसने पति को सारी बातें बताई। महिला का पति जब थाने पहुंचा और जिस आइपी एड्रेस से फेक अकाउंट बनाया गया था, उसकी पड़ताल शुरू हुई तो मालूम पड़ा कि वो रुस्‍तम अली के नाम पर रजिस्‍टर्ड है। रुस्‍तम महिला का रिश्‍ते में देवर लगता है।

पुलिस ने महिला के पति की शिकायत पर रुस्‍तम को धर दबोचा और थाने पर लाकर पूछताछ की। जवाब में रुस्‍तम ने कहा कि उसका फेसबुक अकाउंट हैक हो गया है। उसने ये दावा करते हुए पुलिस को मोबाइल सौंप दिया। उसकी बातों से प्रभावित होकर पुलिस ने मुचलके पर रुस्‍तम को छोड़ दिया, मगर मामले को साइबर सेल के हवाले किया गया। थानाध्यक्ष आशीष कुमार मिश्रा ने आवेदन के आलोक में बताया कि मामला साइबर क्राइम से जुड़ा है। फेक आइडी एवं मोबाइल नंबर से जानकारी प्राप्त कर उचित कार्रवाई किया जायेगा।

महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे     |     टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका     |     गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री      |     भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे     |     सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात     |     श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित       |     निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022     |     बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन     |     जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा     |     अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374