Breaking
बांधी 75 फुट की हरी-भरी राखी, बहनें बोली - पेड़ हमारे हरे-भरे भैया भालू नें कई लोगों को किया घायल घर बैठे ही लोगों को मिला 12 लाख स्मार्ट कार्ड आधारित पंजीयन प्रमाण-पत्र तथा ड्राइविंग लायसेंस मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामुदायिक वन संसाधन अधिकार जागरूकता अभियान का किया शुभारंभ मुख्यालय सहित विभिन्न नगरों में निकाली रैली; विद्यार्थी, शिक्षकों एवं पुलिस कर्मी रहे शामिल नीतीश आठवीं बार बने सीएम अपर कलेक्टर ने जारी किया आदेश, हितग्राही को नहीं दे रहे थे योजना का लाभ सीहोर में जिला संस्कार मंच ने ग्रामीणों को 100 से अधिक तिरंगे निशुल्क बांटे महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश Skoda Enyaq iV की शुरू हुई टेस्टिंग

पटना आ रही ट्रेन ट्रैक्टर से टकराई, रेल की इंजन में फंसा गाड़ी का अगला हिस्सा, बाल बाल बचे यात्री

Whats App

जहानाबाद। जहानाबाद-पटना रेलखंड पर रविवार को बड़ा हादसा टल गया। कडौन हॉल्ट के समीप गया-पटना पैसेंजर ट्रेन और ईंट लदे ट्रैक्टर में टक्कर हो गई। इस भीषण टक्कर में ट्रेन के इंजन से सटी एक बोगी का दो पहिया पटरी से उतर गया। पहिला उतरते ही यात्रियों के बीच अफरा-तफरी मच गई। इस टक्कर के बाद ट्रैक्टर का इंजन ट्रेन में फंस कुछ दूरी तक घसीटता चला गया। जानाकारी के इस हादसे में दो यात्री मामूल रूप से घायल हुए हैं। घायल यात्रियों का नाम विशाल और रंजीत कुमार बताया जा रहा है। इनका इलाज जहानाबाद के सदर अस्पताल में किया जा रहा है।

दरसअल, बेलदारीचक के पास लिंक रोड है, जहां से ट्रैक्टर रेल पटरी से होकर गुजर रहा था। वहां समपार फाटक नहीं होने के कारण चालक गाड़ी लेकर सीधे पटरी पर आ पहुंचा।  सामने से आती ट्रेन उसे टक्कर मारते हुए आगे बढ़ गई। ट्रैक्टर का इंजन फंसने के कारण ट्रेन असन्तुलित हो गई और उसका दो पहिया पटरी से उतर गया। ट्रेन चालक की सूझ बूझ से बड़ा हादसा टल गया। सूचना पर दानापुर से रेलवे अधिकारियों की टीम धटनास्थल के लिए रवाना हो गईं है। ट्रैकर चालक कूदकर भाग निकला।

अवैध रेलवे क्रॉसिंग के कारण हुआ हादसा

Whats App

 घटनास्थल के पास आसपास के गांवों के ग्रामीणों द्वारा अवैध रेलवे क्रॉसिंग बना लिया गया है। इसी वजह से यह हादसा हो गया। रेलवे लाइन के दोनों किनारे मुठेर, बेलदारी चक, चमन बिगहा समेत कई गांव है। आवाजाही के लिए ग्रामीणों ने यहां जबरन रास्ता बना लिया। लेकिन रेलवे की ओर से भी इस अवैध क्रॉसिंग को बंद कराने के लिए कभी सख्ती नहीं की गई। ग्रामीणों की दबंगई और रेलवे की सुस्ती के कारण आज सैंकड़ों यात्रियों की जान जाते जाते बची। धटनास्थल पर काफी संख्या में पुलिस बल पहुंच गया। घटना और उससे होने वाली परेशानियों से यात्रियों में काफी आक्रोश है। यात्रियों को अपने गंतव्य तक जाने के लिए परेशान होना पड़ रहा है।

किराया लौटाने को लेकर हंगामा

गया-पटना मेमो सवारी गाड़ी पर सवार यात्रियों ने दुर्घटना के बाद रेल किराया लौटाने को लेकर हंगामा किया। वहां पहुंचे अधिकारियों से रेल किराया लौटाने की मांग करने लगे। गया से पटना जा रहे यात्री अरविंद ने कहा कि 50 रुपये का टिकट लिया था। पटना पहुंचने से पहले ही ट्रेन दुर्घटना ग्रस्त हो गई। यहां से जाने के लिए रेलवे की ओर से कोई वैकल्पिक व्यवस्था भो नहीं की गई। ऐसे में यात्रियों को गाड़ी रिजर्व कर जाना पड़ेगा, उसका खर्चा कौन देगा। रेल यात्री पुतुल कुमार ने कहा कि मैं भी पटना जा रहा था वहां से मुज्जफरपुर जाना है। इतने पैसे पास में नहीं है कि रिजर्व गाड़ी से जाएं। रेलवे को यात्रियों की सुविधा का खयाल रखना चाहिये। यही शिकायत दर्जनों यात्रियों की थी। रेलवे पुलिस और अधिकारी यात्रियों को समझाने में जुटे थे।

बांधी 75 फुट की हरी-भरी राखी, बहनें बोली – पेड़ हमारे हरे-भरे भैया     |     भालू नें कई लोगों को किया घायल     |     घर बैठे ही लोगों को मिला 12 लाख स्मार्ट कार्ड आधारित पंजीयन प्रमाण-पत्र तथा ड्राइविंग लायसेंस     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामुदायिक वन संसाधन अधिकार जागरूकता अभियान का किया शुभारंभ     |     मुख्यालय सहित विभिन्न नगरों में निकाली रैली; विद्यार्थी, शिक्षकों एवं पुलिस कर्मी रहे शामिल     |     नीतीश आठवीं बार बने सीएम     |     अपर कलेक्टर ने जारी किया आदेश, हितग्राही को नहीं दे रहे थे योजना का लाभ     |     सीहोर में जिला संस्कार मंच ने ग्रामीणों को 100 से अधिक तिरंगे निशुल्क बांटे     |     महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश     |     Skoda Enyaq iV की शुरू हुई टेस्टिंग     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374