Breaking
कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार यूएनजीए अध्यक्ष ने फिलिस्तीनियों के लिए भरोसा जताने के महत्व पर जोर दिया

पटना-नीतीश कुमार को पीएम मैटेरियल बताने की जदयू में लगी होड़-ललन सिंह ने तो कह दी बड़ी बात।

Whats App

बिहार की राजनीति में आजकल पीएम मैटेरियल की चर्चा ने सियासी गलियारों को गर्म कर रखा है। जदयू के नेताओं में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री पद के योग्‍य बताने की होड़ लग गई है। इस होड़ की वजह क्‍या है, इसको लेकर अलग-अलग बातें सभी नेता कह रहे हैं। राजद ने जदयू नेताओं के दावे पर तंज कसते हुए कहा है कि नरेंद्र मोदी जबर्दस्‍ती नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री बना देंगे तो बन पाएंगे, वरना वे अपनी हद में ही रहेंगे। वहीं कांग्रेस ने कहा कि बिना परीक्षा दिए ही नीतीश कुमार आखिर कैसे प्रधानमंत्री पद की परीक्षा में पास होंगे। इस बीच जदयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ललन सिंह ने कह दिया कि नीतीश का चेहरा किसी भी दल को पसंद नहीं है।

ललन सिंह ने क्‍यों कहा ऐसा

जदयू की राष्‍ट्रीय परिषद की बैठक में आरसीपी सिंह ने सबसे पहले अपनी पार्टी को मजबूत करने की बात कही तो उपेंद्र कुशवाहा लगातार कह रहे हैं कि उनके नेता पीएम के लिए योग्‍य हैं। पीएम मैटेरियल की चर्चा के बीच यह सवाल उठ रहा है कि क्‍या नीतीश कुमार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती देंगे। ऐसे सवाल जदयू और भाजपा के नेताओं से लगातार पूछे जा रहे हैं। ऐसे ही एक सवाल पर ललन सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार में प्रधानमंत्री बनने के लिए पूरी काबिलियत है। जदयू की राष्‍ट्रीय परिषद ने इस बाबत प्रस्‍ताव भी पास किया है, लेकिन उनके नेता प्रधानमंत्री पद के लिए दावेदारी नहीं करने जा रहे हैं। इसके पीछे वजह यह है कि नीतीश कुमार को देश का कोई भी दूसरा राजनीतिक दल पसंद नहीं करता है। उनके चेहरे को कोई राजनीतिक दल स्‍वीकार नहीं करता है।

Whats App

भाजपा और लोजपा की एक जैसी राय

भाजपा का कहना है कि फ‍िलहाल प्रधानमंत्री पद के लिए कोई वैकेंसी नहीं है। भाजपा के एमएलसी नवल किशोर यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री पद पर नरेंद्र मोदी जब तक चाहेंगे, जनता उन्‍हें बनाए रखेगी। वे जब खुद चाहेंगे, तभी प्रधानमंत्री पद पर वैकेंसी होगी। उन्‍होंने कहा कि हर दल को अपने नेता की ब्रांडिंग का अधिकार है। जदयू नेता अगर नीतीश कुमार के पीएम मैटेरियल बता रहे हैं, तो इसमें कोई हाय तौबा मचाने की जरूरत नहीं है। जदयू ने पहले ही साफ कर दिया है कि वे प्रधानमंत्री पद के लिए दावेदारी नहीं कर रहे हैं। खुद मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी ऐसी चर्चाओं को फिजुल बता चुके हैं। लोजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस ने भी कहा कि फिलहाल पीएम पद के लिए कोई वैकेंसी नहीं है।

कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |     एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार     |     यूएनजीए अध्यक्ष ने फिलिस्तीनियों के लिए भरोसा जताने के महत्व पर जोर दिया     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374