Breaking
ट्रक ने स्कूटी में मारी टक्कर, दो लड़कियों की मौत  कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी! खत्म हुआ NPS, पुरानी पेंशन लागू करने के आदेश जारी पेटीएम ने 950 करोड़ के निवेश के लिए बनाई बीमा फर्म इस सप्ताह शेयर बाजार में इन फैक्टर्स का दिख सकता है असर, निवेश से पहले जरूर जान लें भारत की इकलौती ट्रेन जिसमें नहीं लगता किराया, 73 साल से फ्री में यात्रा कर रहे लोग यूपी सरकार का बड़ा फैसला! घर के एक सदस्य को देगी रोजगार, जान लीजिए प्लान दबंगों ने बाइक का एक्सीलेटर तेज करने पर युवक की पिटाई IPL खत्म होते ही एक टीम में खेलते नजर आएंगे कीरोन पोलार्ड और सुनील नरेन आजम खान के योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले बजट सत्र में शामिल होने की संभावना बेहद कम गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के अनुरोध पर दमनगंगा-पार-तापी-नर्मदा लिंक परियोजना रद्द

चीन में प्रदूषण रोकथाम के लिए जारी किया नया सर्कुलर, पीएम 2.5 के स्तर में 10 फीसद कमी का लक्ष्य

Whats App

बीजिंग। चीन ने बढ़ते वायु प्रदुषण को कम करने के लिए उपाय करने शुरू कर दिए हैं। अधिकारियों ने देश में बढ़ते प्रदूषण के संकट को रोकने और नियंत्रित करने के लिए चल रही लड़ाई को बढ़ावा देने के लिए नया सर्कुलर जारी किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, चीन की केंद्रीय समिति और राज्य परिषद की कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा संयुक्त रूप से जारी किए गए सर्कुलर में पारिस्थितिकी पर्यावरण में सुधार के प्रमुख लक्ष्यों का विवरण दिया गया है।

सर्कुलर के अनुसार, 2025 तक देश के सकल घरेलू उत्पाद की प्रति यूनिट कार्बन डाइआक्साइड उत्सर्जन 2020 के स्तर से 18 प्रतिशत कम हो जाएगा। इसके साथ ही शहरों में पीएम 2.5 के स्तर में 10 प्रतिशत की कमी और अच्छी वायु गुणवत्ता वाले दिनों का अनुपात 87.5 प्रतिशत तक पहुंचने की बात कही गई है। इसके अलावां अच्छी गुणवत्ता वाले सतही जल का अनुपात इस अवधि के दौरान 85 प्रतिशत से ऊपर का तय किया गया है। सर्कुलर में आगे कहा गया है कि 2035 तक कार्बन उत्सर्जन स्थिर हो जाएगा और अपने चरम पर पहुंचने के बाद इसमें गिरावट आएगी और देश के पारिस्थितिक पर्यावरण में मौलिक सुधार देखने को मिलेगा।

इसस पहले वायु प्रदूषण के कारण चीन के सभी राजमार्ग और खेल के मैदानों को बंद करने का आदेश जारी किया था। बीजिंग की नगरपालिका स्तरीय सरकार ने अत्यधिक वायु प्रदूषण के कारण येलो अलर्ट जारी किया है। यह अलर्ट गुरुवार को शाम चार बजे से लागू किया गया। सबसे भीषण वायु प्रदूषण के लिए चीन में सबसे कड़ी चेतावनी के लिए रेड अलर्ट जारी किया जाता है। इसमें सबसे पहले क्रमश: ब्लू, येलो और आरेंज आता है।

Whats App

चीन ने पिछले हफ्ते कहा था कि उसने नियमित कोयला उत्पादन को दस लाख टन से भी अधिक बढ़ा दिया है। ताकि बिजली की कमी न हो। दरअसल हाल के कुछ महीनों में बिजली संकट से जूझ रहे चीन को अपनी की फैक्टि्रयों को बिजली आपूर्ति नहीं होने की वजह से बंद करना पड़ा था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ट्रक ने स्कूटी में मारी टक्कर, दो लड़कियों की मौत      |     कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी! खत्म हुआ NPS, पुरानी पेंशन लागू करने के आदेश जारी     |     पेटीएम ने 950 करोड़ के निवेश के लिए बनाई बीमा फर्म     |     इस सप्ताह शेयर बाजार में इन फैक्टर्स का दिख सकता है असर, निवेश से पहले जरूर जान लें     |     भारत की इकलौती ट्रेन जिसमें नहीं लगता किराया, 73 साल से फ्री में यात्रा कर रहे लोग     |     यूपी सरकार का बड़ा फैसला! घर के एक सदस्य को देगी रोजगार, जान लीजिए प्लान     |     दबंगों ने बाइक का एक्सीलेटर तेज करने पर युवक की पिटाई     |     IPL खत्म होते ही एक टीम में खेलते नजर आएंगे कीरोन पोलार्ड और सुनील नरेन     |     आजम खान के योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले बजट सत्र में शामिल होने की संभावना बेहद कम     |     गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के अनुरोध पर दमनगंगा-पार-तापी-नर्मदा लिंक परियोजना रद्द     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374