Breaking
भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर  कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार

पटना।श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के कार्यालय में मारपीट

Whats App

बिहार श्रमजीवी पत्रकार यूनियन कार्यालय आज हिंसक संघर्ष का गवाह बन गया ।यूनियन कार्यालय में प्रवेश को लेकर पत्रकार कैंटीन के संचालक तथाकथित प्रेस छायाकार शशि उत्तम ने हिंदुस्तान के प्रेस छायाकार अनिल कुमार पर प्राणघातक हमला कर दिया ।इस हमले में अनिल के छाती में चोट लगी है। उनका इलाज गाडिर्नर रोड अस्पताल में किया गया ।जहां उनके छाती और बांह का एक्सरे किया गया। इंजेक्शन और दवा दिए गए। डॉक्टर ने अनिल के छाती और बांह के बेहतर इलाज के लिए लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल रेफर किया है। अनिल ने इस संबंध में कोतवाली थाना में शिकायत दर्ज कराया है।
गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से यूनियन के अध्यक्ष मृत्युंजय मानी की मनमानी और तानाशाही प्रवृत्ति को लेकर यूनियन में विवाद चल रहा है। अनिल यूनियन के वर्तमान में कोषाध्यक्ष हैं। मानी ने वर्चुअल मीटिंग के जरिए कोषाध्यक्ष और महासचिव को यूनियन से निष्कासित कर दिया है। जबकि महासचिव ने आम सभा की बैठक बुलाकर जिसमे 50 पत्रकार और छायाकार उपस्थित थे अध्यक्ष मिर्तुंजय को अध्यक्ष पद से बर्खास्त करते हुए उन्हें 10 साल के लिए उन्हें यूनियन से निकाल दिया है। मानी की तानाशाही का आलम यह है कि वह दैनिक जागरण अखबार के नाम पर रंगदारी करते हैं और जिला प्रशासन देखने का धौंस जमाकर अपने मातहतों और पत्रकार साथियों को डराते धमकाते हैं। इतना ही नहीं पत्रकार यूनियन जो पत्रकारों के लिए है उसके कार्यालय का चाबी और कागजात लेकर पिछले कई दिनों से फरार हैं ।मानी ने स्वघोषित अध्यक्ष के रूप में शशि उत्तम और आज के पत्रकार महेंद्र श्रीवास्तव को यूनियन की सुरक्षा का दायित्व सौपा था।

भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर      |     कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |     एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374