Breaking
गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड पर रात में हो रहा था जश्न, आठ गाड़ियां सीज युवराज सिंह ने बद्रीनाथ संग झील में लिया बोटिंग का मजा कहा- दुर्घटना में घायल मरीज के साथ आए लोगों ने किया हंगामा और अभद्रता गत्ते के डिब्बे बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | Corrugated Cardboard Box Making Business in Hindi जो भी आतंकवादी संस्था या गतिविधियों से जुड़े हों, उन पर कार्रवाई हो - कमल नाथ T20I मैच से पहले पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका CM मान ने कहा; शहीद भगत सिंह जैसे बलिदानियों को मिले भारत रत्न, बढ़ेगी पुरस्कार की इज्जत शंकराचार्य सदानन्द और अविमुक्तेश्वरानन्द के पट्टाभिषेक का आज निकल रहा मुहूर्त टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस कैसे शुरू करें | How to Setup Tiffin Service centre in hindi फांसी से लटका मिला व्यवसायी का शव

शीतकालीन सत्र 2021: लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने वाला बिल लोकसभा में पेश

Whats App

लोकसभा में कांग्रेस सहित कुछ विपक्षी दलों के सदस्यों ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर मंगलवार को भी हंगामा जारी रखा जिसके कारण सदन की कार्यवाही एक बार के स्थगन के बाद अपराह्न दो बजकर करीब 30 मिनट पर दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई। सदन में विपक्षी सदस्यों के हंगामे के बीच ही ‘बाल विवाह निषेध (संशोधन) विधेयक, 2021′ पेश किया गया। महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने इसे स्थायी समिति के पास भेजने का प्रस्ताव किया। एक बार के स्थगन के बाद जब दोपहर दो बजे लोकसभा की कार्यवाही आरंभ हुई तो विपक्षी सदस्य नारेबाजी करते हुए आसन के निकट पहुंच गए। पीठासीन सभापति राजेंद्र अग्रवाल ने शोर-शराबे के बीच ही आवश्यक कागजात सदन के पटल पर रखवाए।

हंगामे के बीच ही, केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने ‘बाल विवाह निषेध (संशोधन) विधेयक, 2021′ को सदन में पेश किया। कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, द्रमुक, बीजू जनता दल, शिवसेना और कुछ अन्य विपक्षी दलों ने इस विधेयक को पेश किए जाने का विरोध किया। अधिकांश विपक्षी सदस्यों ने इस विधेयक को जल्दबाजी में लाने और संबंधित पक्षों से विचार-विमर्श नहीं करने का आरोप लगाया। विपक्षी सदस्यों की नारेबाजी के बीच ही, सदन ने ‘चार्टर्ड अकाउंटेंट, लागत और संकर्म लेखापाल तथा कंपनी सचिव (संशोधन) विधेयक, 2021′ को स्थायी समिति के विचारार्थ भेजे जाने को मंजूरी दी। सदन में हंगामा जारी रहने पर पीठासीन सभापति अग्रवाल ने दिन में दो बजकर करीब 30 मिनट पर कार्यवाही बुधवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

इससे पहले, विपक्षी सदस्यों की नारेबाजी के कारण प्रश्नकाल बाधित हुआ। अध्यक्ष ओम बिरला ने शोर-शराबे के बीच ही प्रश्नकाल शुरू कराया। प्रश्नकाल के दौरान गृह, कृषि, ग्रामीण विकास मंत्रालयों से जुड़े पूरक प्रश्न पूछे गए जिनके संबंधित मंत्रियों ने उत्तर भी दिए। बिरला ने नारेबाजी कर रहे विपक्षी सदस्यों से अपने स्थान पर जाने की अपील की। बिरला ने सदस्यों से कहा,‘‘आप अपने स्थान पर जाएं, पूरा मौका दूंगा। आपको हर मुद्दे पर पूरा समय दूंगा। आप नियोजित तरीके से सदन में व्यवधान डालते हैं, ये उचित नहीं है। आप अपने सीट पर जाइए।” सदन में हंगामा जारी रहने पर उन्होंने 11 बजकर करीब 50 मिनट पर कार्यवाही अपराह्न दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा के मामले पर ही सोमवार तथा गत सप्ताह भी विपक्षी सदस्यों ने सदन में हंगामा किया था जिसके कारण सदन की कार्यवाही बाधित हुई थी।

गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड पर रात में हो रहा था जश्न, आठ गाड़ियां सीज     |     युवराज सिंह ने बद्रीनाथ संग झील में लिया बोटिंग का मजा     |     कहा- दुर्घटना में घायल मरीज के साथ आए लोगों ने किया हंगामा और अभद्रता     |     गत्ते के डिब्बे बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | Corrugated Cardboard Box Making Business in Hindi     |     जो भी आतंकवादी संस्था या गतिविधियों से जुड़े हों, उन पर कार्रवाई हो – कमल नाथ     |     T20I मैच से पहले पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका     |     CM मान ने कहा; शहीद भगत सिंह जैसे बलिदानियों को मिले भारत रत्न, बढ़ेगी पुरस्कार की इज्जत     |     शंकराचार्य सदानन्द और अविमुक्तेश्वरानन्द के पट्टाभिषेक का आज निकल रहा मुहूर्त     |     टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस कैसे शुरू करें | How to Setup Tiffin Service centre in hindi     |     फांसी से लटका मिला व्यवसायी का शव     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374