New Year
Breaking
गोपालगंज।अन्तर जिला गिरोह के चार सरगना गिरफ्तार मोतिहारी के रहने वाले हैं लुटेरे. मुख्यमंत्री चौहान ने सामाजिक संस्था के प्रतिनिधियों के साथ पौध-रोपण किया जल्द चुनाव के लिए तैयार हैं तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष शिवाजी मार्केट की दुकानें शिफ्ट करना फिर अटका  राष्ट्रपति का अभिभाषण, चुनावी भाषण और सरकार का प्रोपेगेंडा था : शशि थरूर मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार...

फुटबॉल मैच के दौरान भिड़े खिलाड़ी,छह को मिला रेड कार्ड

Whats App

फीफा विश्व कप 2022 में फुटबॉल के बेहतरीन मैच देखने को मिल रहे हैं। इस बीच रूस में एक फुटबॉल मैच के दौरान ऐसा नजारा दिखा, जिसे कोई भी फुटबॉल फैन नहीं देखना चाहेगा। दो टीमों के खिलाड़ी मैच के दौरान आपस में भिड़ गए और एक दूसरे पर जमकर लात-घूंसे चलाए। मैच रेफरी और अन्य अधिकारियों ने बीच-बचाव की कोशिश की, लेकिन सारे प्रयास असफल रहे। अंत में छह खिलाड़ियों को रेड कार्ड दिखाया गया और मैदान से बाहर कर दिया गया। जेनित और स्पार्टक के बीच यह मुकाबला पेनाल्टी शूटआउट तक पहुंचा और यहां जेनित की टीम ने 4-2 के अंतर से जीत हासिल की।

रूस कप के इस मुकाबले में दोनों टीमें पूरे मैच में गोल नहीं कर पाई थीं। ऐसे में इंजरी टाइम में दोनों टीमों के खिलाड़ी गोल करने की कोशिश कर रहे थे। इंजरी टाइम के दौरान मैच के 90वें मिनट में स्पार्टक की टीम ने अपने हाफ से फ्री किक ली। इस दौरान क्वैंसी प्रोम्स और विलियम बैरियोस आपस में टकरा गए। दोनों खिलाड़ियों के बीच कुछ बातचीत भी हुई। इसके बाद दोनों खिलाड़ी आपस में भिड़ गए। दोनों के समर्थन में उनके साथी खिलाड़ी और स्टाफ भी पहुंच गया। इसके बाद दोनों टीमों के बीच जमकर मारपीट हुई। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। फुटबॉल के मैदान पर ये नजारे बेहद दुखद हैं। इस लड़ाई के दौरान रेफरी एक-एक कर खिलाड़ियों को रेड कार्ड दिखा रहे थे। उन्होंने एक के बाद एक लगातार छह खिलाड़ियों को रेड कार्ड दिखाए। फैंस रेफरी को देखकर सोशल मीडिया पर मजे ले रहे हैं।

इस झगड़े की शुरुआत रोड्रिगाओ प्राडो ने की थी। जेनित के लिए 55 नंबर की जर्सी में खेलने वाले प्राडो सबसे पहले इस झगड़े में शामिल हुए और मारपीट की शुरुआत की, लेकिन रेफरी ने उन्हें रेड कार्ड नहीं दिया। इस दौरान मैच से रेफरी का कंट्रोल पूरी तरह खत्म हो गया। दोनों टीमों के सब्स्टीट्यूट खिलाड़ी और कोच भी मारपीट का हिस्सा बने। खास बात यह है कि जिन छह खिलाड़ियों को रेड कार्ड मिले वह प्लेइंग 11 का हिस्सा नहीं थे। दोनों टीमों के तीन-तीन खिलाड़ियों को रेड कार्ड दिया गया।

मुख्यमंत्री चौहान ने सामाजिक संस्था के प्रतिनिधियों के साथ पौध-रोपण किया     |     जल्द चुनाव के लिए तैयार हैं तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष     |     शिवाजी मार्केट की दुकानें शिफ्ट करना फिर अटका      |     राष्ट्रपति का अभिभाषण, चुनावी भाषण और सरकार का प्रोपेगेंडा था : शशि थरूर     |     मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव     |     आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी     |     केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक     |     दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म ‘द क्रू’ में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ     |     मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार…     |     गोपालगंज।अन्तर जिला गिरोह के चार सरगना गिरफ्तार मोतिहारी के रहने वाले हैं लुटेरे.     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374